Aryan Khan Drug Case : आर्यन खान को नहीं मिली जमानत, अब गुरुवार सुबह 11 बजे होगी सुनवाई

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: विजयाश्री गौर Updated Wed, 13 Oct 2021 05:59 PM IST
Aryan Khan Bail Hearing Live Shahrukh Khan Son Mumbai Cruise Drugs Case Latest News Updates in Hindi
आर्यन खान - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

खास बातें

आर्यन खान पर एनसीबी ने ये भी आरोप लगाया है कि वो विदेश में कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में था जो अवैध खरीद के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय ड्रग्स नेटवर्क का हिस्सा लग रहे हैं और इसकी जांच चल रही है। एनसीबी ने ये भी कहा कि हम इस बात को नजरअंदाज नहीं कर सकते कि जमानत मिलने पर वह देश छोड़कर भाग सकता है।
विज्ञापन

लाइव अपडेट

05:34 PM, 13-Oct-2021

आर्यन खान की जमानत टली

मुंबई की सेशंस कोर्ट में आर्यन, अरबाज मर्चेट और मुनमुन धमेचा की जमानत याचिका पर बुधवार को सुनवाई पूरी नहीं हो सकी, मामले में अब कल यानी गुरुवार को 12 बजे सुनवाई होगी।
05:22 PM, 13-Oct-2021

अपने बयान से पीछे हटा आर्यन

एएसजी अनिल सिंह की दलील- जमानत अर्जी पर सुनवाई के दौरान आर्यन अपने बयान से पीछे हट गया। बेशक वो ऐसा कर सकता है लेकिन उनके दूसरे बयान का क्या जिसमें उन्होंने अपने दोस्त के साथ ड्रग्स लेने की बात स्वीकारी थी।
05:19 PM, 13-Oct-2021

एएसजी ने कोर्ट को दिखाया चैट

थोक मात्रा की बातचीत व्यक्तिगत उपयोग के लिए तो बिल्कुल नहीं हो सकती। कुछ और है। हमने विदेशी नागरिक का पता लगाने के लिए विदेश मंत्रालय से बात की है। 
05:15 PM, 13-Oct-2021

एएसजी: जरूरी नहीं है कि सभी आरोपियों के पास प्रतिबंधित पदार्थ बरामद हो

एएसजी: जब धारा 29 लागू होती है, तो जिस व्यक्ति पर अपराध का आरोप लगाया जाता है, उसे उसी अपराध के लिए साजिशकर्ता के रूप में भी दंडित किया जाता है। मैं इस बात की ओर इशारा इसलिए कर रहा हूं क्योंकि साजिश के मामले में यह जरूरी नहीं है कि सभी आरोपियों के पास प्रतिबंधित पदार्थ बरामद हो।
05:04 PM, 13-Oct-2021

एएसजी ने मांगा कल तक का समय

एएसजी बोले, मैं कह रहा हूं कि मैं आज शुरू करूंगा लेकिन अगर कुछ जमा करना है, तो मैं कल जारी रखूंगा। यह कोर्ट को तय करना है। हमारा तर्क है कि प्रतिबंधित पदार्थ अरबाज मर्चेंट के पास मिला है, जो आर्यन खान से उनके आवास मन्नत पर मिले थे। अपने बयान में उन्होंने खान के साथ संबंध को स्वीकार किया है। 
05:00 PM, 13-Oct-2021

अनिल सिंह बोले- हमारे पास इनके चैट्स मौजूद

हमारे पास वे चैट्स हैं जिसमें ड्रग्स की थोक मात्रा के बारे में बात की जा रही हैं, फिर हार्ड ड्रग्स के संदर्भ में एक विदेशी नागरिक के साथ बातचीत होती है। 
04:54 PM, 13-Oct-2021

कोर्ट पहुंचे एएसजी अनिल सिंह

एनसीबी का पक्ष रख रहे एएसजी अनिल सिंह कोर्ट पहुंच चुके हैं। उन्होंने कोर्ट से कहा- यह यकीन करना मुश्किल है कि आर्यन खान को क्रूज पर बुलाया गया था। क्या उन्हें जानकारी नहीं थी कि उनके साथ कोई व्यक्ति प्रतिबंधित सामग्री ले जा रहा था।
04:41 PM, 13-Oct-2021

मेरे खिलाफ फर्जी केस चल रहा- मुनमुन धमेचा

मुनमुन धमेचा के वकील देशमुख ने कोर्ट से कहा -वे यह दिखाने की कोशिश तो कर रहे हैं कि साजिश है लेकिन यह साबित करने में नाकाम रहे हैं। एनसीबी की टीम दूसरों को गिरफ्तार क्यों नहीं कर रही, केवल मुझे ही निशाना क्यों बनाया जा रहा है? मेरे खिलाफ फर्जी केस चल रहा है।
04:35 PM, 13-Oct-2021

पूरा मामला खान और मर्चेंट के खिलाफ-देशमुख

अब कोर्ट में अरबाज मर्चेंट के लिए वकील तारक सैयद और मुनमुन धमेचा के वकील अली कासिफ खान देशमुख अपना अपना पक्ष रख रहे हैं। पूरा मामला खान और मर्चेंट के खिलाफ है, लेकिन शुरू से ही उन्हें इस केस में कुछ नहीं मिला है।
04:17 PM, 13-Oct-2021

आर्यन को सबक मिल गया है

धारा 27 के तहत सजा पहले 5 साल के लिए थी, लेकिन 2001 में इसे घटाकर 1 साल कर दिया गया था। भांग को भी ड्रग की श्रेणी से हटा दिया गया था। वे हिरासत में हैं और उन्हें इसका सबक मिल गया है... वे पेडलर नहीं हैं। उन्होंने काफी कुछ सहा है। कुछ करना ही है, का मतलब ऐसा करना ही नहीं होता। हां वे युवा हैं और ऐसा कर रहे हैं। लेकिन कई देशों में यह सब कानूनी है।
04:16 PM, 13-Oct-2021

अब आर्यन के हिरासत की जरूरत नहीं

देसाई धारा 29 एनडीपीएस अधिनियम के उपयोग और जमानत दिए जाने से संबंधित निर्णय पढ़ रहे हैं। कोई जब्ती न होने की स्थिति में अधिकतम सजा एक वर्ष है। अब आर्यन के हिरासत की जरूरत नहीं है।
 
04:09 PM, 13-Oct-2021

लागू नहीं होता 27A

देसाई ने कहा, हम जमानत पर हैं। 20 (बी), पंचनामा में है और हमें यह अधिकार मिलता है। वॉट्सऐप चैट होने के बावजूद 27A लागू नहीं होता है। धारा 20(बी) कब्जा, खरीद, बिक्री, ड्रग्स बनाने, कुछ भी इस केस में लागू नहीं होता है।
03:56 PM, 13-Oct-2021

देसाई पढ़ रहे आर्यन की जमानत अर्जी 

जब मुझे गिरफ़्तार किया गया तो गिरफ्तारी ज्ञापन में धाराओं का उल्लेख किया गया था। मुझे केवल एनडीपीएस अधिनियम की धारा 27, 20 (बी), 28, 29, 8 (सी) के तहत गिरफ्तार किया गया था। एनसीबी को पता होना चाहिए कि अवैध तस्करी क्या है। इस लड़के पर अवैध तस्करी का आरोप लगाया गया है। 

03:52 PM, 13-Oct-2021

मर्चेंट के पास से मात्र 6 ग्राम चरस ही बरामद हुआ

उन्होंने आर्यन खान से दोबारा पूछताछ नहीं की। पूछताछ में उन्हें केवल आचित के पास ही 2.6 ग्राम चरस मिली जो कि अवैध नहीं है। ये बात ध्यान देने योग्य है कि खान को 27ए के लिए गिरफ्तार नहीं किया गया है। मर्चेंट के पास से मात्र 6 ग्राम चरस ही बरामद हुआ।
03:51 PM, 13-Oct-2021

किसी को बेवजह नहीं पकड़ा जा सकता

जब एनसीबी कानूनी कार्रवाई करती है, तो यह एक अच्छा काम माना जाता है लेकिन आप उन लोगों को बेवजह पकड़कर नहीं ला सकते, जो केस से जुड़े हुए नहीं हैं। इसे साजिश कहा जाता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00