डॉक्टरों के सर्वे में सामने आई बड़ी बात, डायबिटीज के मरीजों में बढ़ रही नपुंसकता

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Tue, 10 Jul 2018 09:51 AM IST
sir ganga ram doctors survey claims impotence increasing in type 2 diabetes patients delhi ncr
ख़बर सुनें
मधुमेह की वजह से मरीजों में नपुंसकता बढ़ रही है। ये सुनने में कुछ अजीब जरूर लग रहा है लेकिन सर गंगाराम अस्पताल के डॉक्टरों ने ऐसा ही दावा किया है।
इनके अनुसार टाइप टू मधुमेह के 18-65 साल उम्र वर्ग के 275 मरीजों पर सर्वे किया गया, जिसके बाद डॉक्टरों का कहना है कि टाइप टू मधुमेह बड़ी संख्या में मरीजों में नपुंसकता पैदा कर रहा है। सामान्य की तुलना में यह शिकायत डायबिटीज के मरीजों में 50 फीसदी ज्यादा है।

सर गंगाराम अस्पताल के मेडिसीन विभाग के वरिष्ठ सलाहकार डॉ. अतुल कक्क्ड़ का कहना है कि वर्ष 2015-17 के बीच गंगाराम अस्पताल में टाइप टू मधुमेह के 225 और 50 सामान्य मरीजों पर शोध किया गया।

इन मरीजों से उनके यौन क्रिया से संबंधित पांच सवाल किए गए, जिसमें पता चला है कि डायबिटीज के 173 (78.5 प्रतिशत) मरीजों को इरेक्शन डिसऑर्डर (यौन समस्या) है, जबकि सामान्य वर्ग के 46 फीसदी मरीजों में यह समस्या है। जिन लोगों को पांच वर्ष से कम समय से डायबिटीज है उनमें 43.6 फीसदी यह समस्या है जबकि 3.6 फीसदी मरीजों में यह समस्या गंभीर है।
आगे पढ़ें

इन मरीजों में ज्यादा मिल रही परेशानी 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all health tips in Hindi yoga tips in hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news from lifestyle and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Yoga and Health

खूबसूरती ही नहीं सेहत भी खराब करता है खाली बैठना

ऑफिस या घर में आप काम से जी चुराते हैं और खाली बैठना ज्यादा पसंद करते हैं, तो इससे आपकी सुंदरता के साथ-साथ आपकी सेहत पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

10 जुलाई 2018

Related Videos

ये चीजें विदेशों में हैं प्रतिबंधित, भारत में हो रही जमकर बिक्री

क्या आप जानते हैं कि जिन चीजों का इस्तेमाल आप रोज करते हैं उनमें से कुछ नुकसानदायक हैं और इन पर विदेशों में प्रतिबंध लगा हुआ है। आइए ऐसी ही चीजों से आपको जागरूक कराते हैं...

29 मई 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen