आपका शहर Close
Kavya Kavya
Hindi News ›   Kavya ›   Vishwa Kavya ›   world poetry john ashbery poem on love translated by madan soni
जॉन एशबेरी

विश्व काव्य

विश्व काव्यः अपना प्रेम बताने की कोशिश कभी मत करो

काव्य डेस्क, नई दिल्ली

370 Views
बहुत से रंग तुम्हें ले जाएंगे अपने में
लेकिन अब मैं चाहता हूं कोई बताए किस तरह जाऊं घर। 
पीछे छूटी राह में है रंग बिरंगी और एक छलनी
छायादार जगह। वह वहां की है जहां वह जा रही है

वहां की नहीं जहां वह है। फूल अब बोलते नहीं इदा से।
सिर्फ फूलों की भाषा बोलते हैं वे
कुछ इस तरह कहते हुए, वहां पहुंचने कितनी कठिन कोशिश की मैंने। 
यही इसका अर्थ होना चाहिए मैं यहां अब तक नहीं हूं। लेकिन तुम,
तुम दीखते हो इस कदर औपचारिक, इस कदर गंभीर। 
तुम पढ़ नहीं सकते कविता

न वह तरीका जिससे वे सिखाते थे हमें पहले स्कूल में।

मर्म पर लौटना तब खास बात होती थी हमेशा।
कभी भी क्या हम छोड़ सके इसे? मुझे नहीं लगता। यह था हमारा उत्तरी ध्रुव। 
हम छुपे रहे और भूखे बने रहे बरसों और अब 
स्तब्ध कीड़ों की तरह छूकर गुजरते हुए उजली हवाओं को,
तुम फिर वापस हो रास्ते पर, राह जो बढ़ती है
उत्साह से ऊंचाइयों की ओर, पार करती साफ और समझदार अंतराल
वे अब नहीं गढ़ते आश्रय हमारी तरह

और थामे हुए वह तंतु जो जाले सा महीन लेकिन मजबूत है किस कदर
हममें से हर एक बढ़ता चला जाता है अपनी ही भूल-भुलैया में। 
अदृश्यता का उपहार
देवताओं के अलावा सभी को हासिल, इसीलिए हम कहते हैं ये बातें
भरते हुए रास्तों को रंगों से चेहरों से,
मधुर उच्चारों से, जब तक वे हमें सत्य में झोंक नहीं देते।

(विश्व कविता से एक चयन, वाणी प्रकाशन से साभार)
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Your Story has been saved!