सोशल मीडिया: कोई झुककर चाँद कैसे चूमे...

सोशल मीडिया: कोई झुककर चाँद कैसे चूमे...
                
                                                             
                            तुमसे बिछड़ने के बाद
                                                                     
                            
मैं कितने ही लोगों के पास रुकी थी

मैं रुकी थी
बिजली विभाग के बूढ़े दरबान के पास
वह अब इस लायक बचा नहीं था
कि मेरे अनाथ मन की दरबानी करता
उसने मेरी तरफ देखा भी नहीं आगे पढ़ें

1 month ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X