विज्ञापन

ज़ेब ग़ौरी: पढ़ें चुनिंदा शेर

ज़ेब ग़ौरी: पढ़ें चुनिंदा शेर
                
                                                                                 
                            दिल है कि तिरी याद से ख़ाली नहीं रहता 
                                                                                                

शायद ही कभी मैं ने तुझे याद किया हो 

जितना देखो उसे थकती नहीं आँखें वर्ना 
ख़त्म हो जाता है हर हुस्न कहानी की तरह  आगे पढ़ें

1 month ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
विज्ञापन
X