अतहर नफ़ीस: उस दिल की ख़बर ले जो तुझे भूल चला हो 

उर्दू अदब
                
                                                             
                            फिर कोई नया ज़ख़्म नया दर्द अता हो 
                                                                     
                            
उस दिल की ख़बर ले जो तुझे भूल चला हो 

अब दिल में सर-ए-शाम चराग़ाँ नहीं होता 
शो'ला तिरे ग़म का कहीं बुझने न लगा हो 

कब इश्क़ किया किस से किया झूट है यारो 
बस भूल भी जाओ जो कभी हम से सुना हो  आगे पढ़ें

5 months ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X