विज्ञापन

आज का शब्द: मंचन और यश मालवीय की रचना- एक फ़ैण्टेसी बुनें आओ

आज का शब्द
                
                                                                                 
                            'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है- मंचन, जिसका अर्थ है- मंच पर नाटक का खेला जाना। प्रस्तुत है यश मालवीय की रचना- एक फ़ैण्टेसी बुनें आओ
                                                                                                


एक फ़ैण्टेसी बुनें आओ
एक फ़ैण्टेसी बुनें आओ
गीत जो अब तक नहीं गाया
हम उसे समझें सुनें आओ

हैं रिहर्सल में हमारी आत्माएँ
और मंचन की नहीं तारीख़ तय है
बोलने के नाम पर ज़्यादा कहें क्या
घुट रहे से शोर की ही चीख़ तय है,

एक फ़ैण्टेसी बुनें आओ
उँगलियों पर ख़ून की बूँदें सजाएँ
फूल काँटों से चुनें आओ आगे पढ़ें

4 months ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
विज्ञापन
X