जिसने शब्दोंं को जान लिया और पहचान लिया, वह इस लोक और परलोक, दोनों जगह सुखी है- नामवर सिंह

Famous Hindi writer Namvar singh about his life
                
                                                             
                            हिंदी के सुप्रसिद्घ साहित्यकार और आलोचक नामवर सिंह का कल रात निधन हो गया जिसके बाद से सम्पूर्ण साहित्य जगत में शोक व्याप्त है। नामवर सिंह साहित्य में आलोचना का शीर्षस्थ थे। वह एक लेखक व निबंधकार भी थे। उन्हें अमर उजाला की ओर से 2018 शब्द सम्मान में सर्वोच्च सम्मान आकाशदीप से सम्मानित किया गया था।
                                                                     
                            

इस सम्मान को लेकर नामवर सिंह ने अपने अंदाज में कहा कि जिसने शब्दोंं को जान लिया और पहचान लिया, वह इस लोक और परलोक, दोनों जगह सुखी है। आइए जानते हैं अपनी लेखनी को लेकर और क्या कुछ कहते हैं नामवर सिंह। आगे पढ़ें

मेरा जीवन सरल सपाट है। उसमें न ऊंचे पहाड़ हैं, न घाटियां हैं- नामवर सिंह

9 months ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X