आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Mere Alfaz ›   Girwi rakhi jan to achcha hai

मेरे अल्फाज़

गिरवी रखी जान तो अच्छा है

Tumesh Patle

6 कविताएं

638 Views
गिरवी रखी जान तो अच्छा है !

खुदा तो नहीं, वो अगर है इंसान तो अच्छा है,
ईमान के लिए, गिरवी रखी जान तो अच्छा है!

सभी चेहरों से मिलो यहाँ दिल को खोलकर,
किसी मुलाकात में मिले भगवान तो अच्छा है!

शहर तो ठीक, चलो अब गाँव भी घूम आये हैं,
शायद वहीं मिल जाए, हिंदुस्तान तो अच्छा है!

जाने किस गली भूल आया है वो दिल अपना,
और मेरे सर धर दिया ये इल्ज़ाम तो अच्छा है!

धरा से हमारी ज्यादतियों पर खफ़ा होकर,
आग बरसाये कभी आसमान तो अच्छा है!

सच का बयान करता है, वो जरा अकड़कर,
इन अदाओं को कोई कहें, गुमान तो अच्छा है!

मस्ज़िद में आरती की मेरी ख्वाहिशों पर आज,
मंदिर से निकलकर आये अजान तो अच्छा है!

उपवास रोज़ा महज़ इबादत का सलीका ही है,
मुसलमाँ सावन हिन्दू माने रमज़ान तो अच्छा है!

जरूरत में हाथ जरूर फैलाना बस एक दफ़ा,
गर दोस्ती की हो जाये पहचान तो अच्छा है!


तेरे पांव के छालों पर शायद ही यकीं करें कोई,
राह में वो ढूँढे तेरे पावों के निशान तो अच्छा है!


चलो मंदिर, मस्जिद गिरिजाघर से होकर आये,
वहाँ रखा पसीज जाए वो पाषाण तो अच्छा है!


अपने दिल की दीवारों में कैद किया है यारों ने,
रिहा कर मुझे वही छोड़े शमशान तो अच्छा है!


घर के परदें होने लगे तब्दील जब दीवारों में,
तो फिर बिक ही जाए वो मकान तो अच्छा है!


मैं चिराग़ होकर आजमाईशो का निदान चाहता हूँ,
सारथी आ जाये आज कोई तूफान तो अच्छा है!

तुमेश पटले सारथी
बालाघाट (म.प्र.)


हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। 

आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें।
 
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Your Story has been saved!