आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Mere Alfaz ›   Zindagi assan hai

मेरे अल्फाज़

ज़िंदगी आसान है

basudeo verma

4 कविताएं

55 Views
मुश्किलें हैं बहुत डगर-डगर,
जीवन में हैं बहुत अगर-मगर।
रास्ते आसान है,
नजदीक है मंजिल आपकी।
मुश्किलों और कांटों को,
सीढ़ी बनाना सीख लो।

ज़िंदगी आसान है,
बस मुस्कुराना सीख लो।

चिंता, थकान और नींद है,
शरीर आलस भरा,
और मन ग़मगीन है।
सब पा लोगे एक दिन तुम,
बस पाने की चाहत बनाना सीख लो।

ज़िंदगी आसान है,
बस मुस्कुराना सीख लो।

मोह-मन का त्याग कर,
कर्म पर अपने विश्वास कर ।
मेहनत रंग लाएगी एक दिन,
तू पहले ख़ुद को तैयार कर।
पूरी दुनिया होगी तुम्हारी,
बस मन-मंदिर में अपने,
ज्ञान का अलख जगाना सीख लो।

ज़िंदगी आसान है,
बस मुस्कुराना सीख लो।


-- बासुदेव बर्मा
गिरिडीह,झारखंड


- हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। 

आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!