आपका शहर Close
Hindi News ›   Kavya ›   Mere Alfaz ›   Jeet jeet aapni tay ho

मेरे अल्फाज़

जीत जीत अपनी तय हो

Babu Lal

132 कविताएं

34 Views
बाबूलालशर्मा
. *प्रमिताक्षरा छंद*
. 12 वर्ण
सगण जगण सगण सगण
११२ १२१ ११२ ११२

*जीत जीत अपनी तय हो*

प्रभु का जिसे भजन है करना।
मन को सदा सरल ही रखना।
हर भारतीय जन है अपने।
अब सिद्ध होय सब के सपने।

जननी धरा वतन नाज करें।
हम मानवीय परिताप हरे।
अरमान वीर बलिदान करे।
भगवान धीर मम मान धरे।

रथवान कृष्ण जब गीत कहे।
मन मान पार्थ तब युद्ध सहे।
नदियाँ तरे सतत वैतरनी।
हमको उन्हे सजल है रखनी।

परिणाम मान परखे रहना।
अनजान राह तकते सहना।
हरकाज सिद्ध हित मानवता।
कर युद्ध वीर हत दानवता।

अपना महान यह भारत हो।
हर दुष्ट नीच पर लानत हो।
हम कर्म वीर कहलाय सखे।
अब रीत प्रीत हर मान रखें।

लिख गीत छंद हित मानव के।
शुभ सूत्र धार बन आनव के।
डर देख हीन मत तू बनना।
मन मीत देख जगते सपना।

जग जीत वीर बनना तुमको।
फिर धीर वीर बढ़ना हमको।
जय बोल बोल अपनी जय हो।
जग जीत जीत अपनी तय हो।
. 👀👀
✍©
बाबू लाल शर्मा , "बौहरा"
सिकंदरा, 303326
दौसा,राजस्थान,9782924479
👀👀👀👀👀👀👀
प्रमिताक्षरा छंद शिक्षण हेतु रचना



हमें विश्वास है कि हमारे पाठक स्वरचित रचनाएं ही इस कॉलम के तहत प्रकाशित होने के लिए भेजते हैं। हमारे इस सम्मानित पाठक का भी दावा है कि यह रचना स्वरचित है। 

आपकी रचनात्मकता को अमर उजाला काव्य देगा नया मुक़ाम, रचना भेजने के लिए यहां क्लिक करें
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Your Story has been saved!