आपका शहर Close
Kavya Kavya
Hindi News ›   Kavya ›   Kavya Charcha ›   jashn e virasat e urdu from 15 to 20 february in amarujala kavya 
राहत इंदौरी

काव्य चर्चा

जश्न-ए-विरासत-ए-उर्दू में लगी शायरों की महफिल

अमर उजाला, काव्य डेस्क, नई दिल्ली

978 Views
दिल्ली सरकार की तरफ से सेंट्रल पार्क, कनाट प्लेस में 15 से 20 फरवरी तक जश्न-ए-विरासत-ए उर्दू का आयोजन किया गया। छह दिन तक इस समारोह में देशभर के बड़े शायरों ने अपनी नज्मों और कलाम से मोहब्बत और अमन का पैगाम दिया। समारोह में हर दिन दोपहर दो बजे से रात दस बजे तक शेर-शायरी का दौर चला। 

समारोह में 20 तारीख को आल इंडिया मुशायरा का आयोजन किया गया। इसमें शिरकत करने वाले शायरों में राहत इंदौरी, महताब हैदर नकवी, ताहिर फराज, कलीम सामार, अल्ताफ जिया, सुहेल अहमद फारूकी, एमआर काशमी, कौशर मजहरी, इकबाल अशार, वारिस वारसी, मुमताज मुनव्वर, निखात अमरोही शामिल रहे। समारोह का संचालन कासिम इमाम ने किया। 

समारोह में 'किस्सा उर्दू जबान का' कार्यक्रम पेश किया गया। इसके अलावा 'शाम-ए-गजल', 'सारे जश्न से अच्छा' तथा अंत में 'महफिल-ए-कव्वाली' का आयोजन किया गया। 

दिल्ली सरकार की उर्दू अकादमी के सचिव एसएम अली ने बताया कि समारोह में छह दिन तक शेर और शायरी की महफिल लगी। समरोह में प्रवेश पूरी तरह निशुल्क था। 
 
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Your Story has been saved!