विज्ञापन

बार बार दिन ये आए... ये हैं जितेन्द्र के 15 सदाबहार नग़मे

Best song of actor Jitendra
                
                                                                                 
                            

आज सदाबहार अभिनेता जितेन्द्र का जन्मदिन है। उनका जन्म 7 अप्रैल 1942 को पंजाब के अमृतसर में हुआ था, उनका वास्तविक नाम रवि कपूर है। जितेन्द्र को पहला बड़ा ब्रेक फ़िल्म गीत गाया पत्थरों से मिला हालांकि उन्हें सफ़लता फ़िल्म फ़र्ज़ से मिली। वह नायक के तौर पर अब तक 200 से ज्यादा फ़िल्में कर चुके हैं। उनकी विशेष नृत्य शैली के कारण उन्हें बॉलीवुड का जंपिंग जैक कहा जाता है, उनके नग़में भी उन्हीं की तरह सदाबहार हैं।

आज उनके जन्मदिन पर पेश हैं उनके कुछ चुनिंदा सदाबहार नग़मे

बार-बार दिन ये आए

फ़िल्म फ़र्ज़ का यह गाना आनंद बक्शी ने लिखा है, संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल का है और इसे मोहम्मद रफ़ी ने अपनी आवाज़ दी है। आज भी यह गाना लोगों के जन्मदिन पर बजाया जाता है। जितेन्द्र पर फ़िल्माया गया यह गाना आज उन्हीं के लिए पेश है।

बार बार दिन ये आये, बार बार दिल ये गाये
तू जिए हज़ारों साल, ये मेरी है आरज़ू
Happy Birthday to you
Happy Birthday to you
Happy Birthday to Sunita
Happy Birthday to you 

बेक़रार हो के दामन, थाम लूँ मैं किसका
क्या मिसाल दूँ मैं तेरी, नाम लूँ मैं किसका
नहीं, नहीं, ऐसा हसीं, कोई नहीं है
जिसपे ये नज़र रुक जाये, बेमिसाल जो कहलाये
तू जिये हज़ारों साल...

औरों की तरह कुछ मैं भी, तोहफ़ा आज लाता
मैं तेरी हसीं महफ़िल में, फूल ले के आता
जी ने कहा, उसे क्या है, फूलों की ज़रूरत
जो बहार खुद कहलाये, हर कली का दिल धड़काये
तू जिये हज़ारों साल...

फूलों ने चमन से तुझको, है सलाम भेजा
तारों ने गगन से तुझको, ये पयाम भेजा
दुआ है ये, खुदा करे, ऐ शोख तुझको
चाँद की उमर लग जाए, आये तो क़यामत आये
तू जिए हज़ारों साल...

आगे पढ़ें

बार-बार दिन ये आए

4 years ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
विज्ञापन
X