आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Kavya Charcha ›   Best Sher on Tanhai
'तन्हाई' को बयां करते ये हैं 20 बड़े शेर...

काव्य चर्चा

'तन्हाई' को बयां करते ये हैं 20 बड़े शेर...

अमर उजाला काव्य डेस्क, नई दिल्ली

20192 Views
जब दिल को ठेस लगती है तो इंसान अकेले हो जाना पसंद करता है और इस तन्हाई के आलम में वो अपने आप से गुफ्तगू करना पसंद करता है। लेकिन एक शायर ज़हन इस दौर में अपनी कई श्रेष्ठ रचनाओं का निर्माण कर देता है, इसलिए पेश हैं तन्हाई के वक़्त में तन्हाई पर लिखे बेहतरीन शेर-  

अब इस घर की आबादी मेहमानों पर है
कोई आ जाए तो वक़्त गुज़र जाता है
- ज़ेहरा निगाह

अब तो उन की याद भी आती नहीं
कितनी तन्हा हो गईं तन्हाइयाँ
- फ़िराक़ गोरखपुरी
आगे पढ़ें

अपने साए से चौंक जाते हैं...

सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!