आपका शहर Close
Kavya Kavya
Hindi News ›   Kavya ›   Kavya Charcha ›   Best Hindi Shayari on Nazakat
शायरी

काव्य चर्चा

'नज़ाकत' पर 20 बड़े शेर...

अमर उजाला, काव्यडेस्क, नई दिल्ली

6114 Views
कहते हैं ऊपर वाला जब किसी को हुस्न देता है तो नजाकत आ ही जाती है। शायरों नें महबूब की अदाओं में नजाकत को शायरी में इतनी खूबसूरती से ढाला है कि उसे देखने का नजरिया ही बदल जाता है। शेरों शायरी की कड़ी आज पढ़िए महबूब की नजाकत पर शायरों के अल्फ़ाज- 

जो सख़्त बात सुने दिल तो टूट जाता है
इस आईने की नज़ाकत किसी को क्या मालूम
- दाग़ देहलवी

नजाकत ले के आँखों में, वो उनका देखना तौबा, 
या खुदा ! हम उन्हें देखें, की उनका देखना देखें ।
-अज्ञात
आगे पढ़ें

...कलाई की नज़ाकत

Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Your Story has been saved!