आपका शहर Close
Kavya Kavya
Hindi News ›   Kavya ›   Kavya Charcha ›   ahmad faraz here with their top sher and nazam in kavya
एक बार ही जी भर के सज़ा क्यूँ नहीं देते: अहमद फराज

काव्य चर्चा

एक बार ही जी भर के सज़ा क्यूँ नहीं देते: अहमद फराज

अमर उजाला काव्य डेस्क, नई दिल्ली

5538 Views
एक बार ही जी भर के सज़ा क्यूँ नहीं देते?
मैं हर्फ़-ए-ग़लत हूँ तो मिटा क्यूँ नहीं देते?

जब प्यार नहीं है तो भुला क्यों नहीं देते?
ख़त किसलिए रखे हैं जला क्यों नहीं देते? आगे पढ़ें

पलक

Comments
सर्वाधिक पढ़े गए
Top

Other Properties:

Your Story has been saved!