शायरों के कलाम जो आपके अंदर आत्मविश्वास पैदा कर देते हैं...

शायरों के कलाम जो आपके अंदर आत्मविश्वास पैदा कर देते हैं...
                
                                                             
                            बंदा तो इस इकरार पै बिकता है तेरे हाथ,
                                                                     
                            
लेना है अगर मोल तो आज़ाद न करना। 
- नज़्म तबातबाई

वही हक़दार हैं किनारों के,
जो बदल दें बहाव धारों के। 
- निसार इटावी  आगे पढ़ें

1 month ago

कमेंट

कमेंट X

😊अति सुंदर 😎बहुत खूब 👌अति उत्तम भाव 👍बहुत बढ़िया.. 🤩लाजवाब 🤩बेहतरीन 🙌क्या खूब कहा 😔बहुत मार्मिक 😀वाह! वाह! क्या बात है! 🤗शानदार 👌गजब 🙏छा गये आप 👏तालियां ✌शाबाश 😍जबरदस्त
X