आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Kavya Charcha ›   aaj ka shabd santapt
aaj ka shabd santapt

काव्य चर्चा

आज का शब्द - संतप्त और सुभद्राकुमारी चौहान की कविता मुरझाया फूल

अमर उजाला काव्य डेस्क, नई दिल्ली

962 Views
'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है- संतप्त जिसका अर्थ है दुखी या उदास। कवयित्री सुभद्रा कुमारी चौहान अपनी कविता 'मुरझाया फूल' में इसे यूं प्रयोग करती हैं।

यह मुरझाया हुआ फूल है,
इसका हृदय दुखाना मत।
स्वयं बिखरने वाली इसकी
पंखुड़ियां बिखराना मत।

गुज़रो अगर पास से इसके
इसे चोट पहुंचाना मत।
जीवन की अंतिम घड़ियों में
देखो, इसे रुलाना मत।

अगर हो सके तो ठंडी
बूंदें टपका देना प्यारे!
जल न जाए संतप्त हृदय
शीतलता ला देना प्यारे।
सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!