आपका शहर Close
Home ›   Kavya ›   Book Review ›   guftagoo review in hindi
guftagoo review in hindi

इस हफ्ते की किताब

गुफ्तगू - विरासत को सहेजने की कोशिश

मनोरंजन डेस्क अमर उजाला, नई दिल्ली

110 Views

हिंदी-उर्दू साहित्य की त्रैमासिक पत्रिका 'गुफ्तगू' का दिसंबर अंक गागर में सागर भरने जैसा है। उत्कृष्ट कहानियों, कविताओं, गजलों और लेखों के माध्यम से पत्रिका लंबे समय से साहित्य की सेवा में संलग्न है। हिंदी और उर्दू साहित्य को आगे बढ़ाने के लिए इस पत्रिका ने सराहनीय प्रयास किए हैं। नए लेखकों को प्रोत्साहन देना और पुराने साहित्यकारों को सम्मानित करना इसकी नीति रही है। अपने विविध विषयों के जरिए यह पत्रिका पाठकों से सही मायनों में गुफ्तगू करती नजर आती है।


संपादक व प्रकाशक- नाजिया गाजी
प्रयागराज
मूल्य- 30 रुपये

सर्वाधिक पढ़े गए
Top
Your Story has been saved!