लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jharkhand ›   5 NGO workers being gang raped at gunpoint and accused filmed the whole incident

झारखंड: बंदूक की नोक पर 5 लड़कियों से गैंगरेप, महिला आयोग ने बनाया तीन सदस्यीय जांच दल

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, खूंटी Updated Fri, 22 Jun 2018 08:49 AM IST
5 NGO workers being gang raped at gunpoint and accused filmed the whole incident
विज्ञापन
ख़बर सुनें

झारखंड की राजधानी रांची के कोचांग में रोंगटे खड़े कर देनी वाली खबर सामने आयी है। यहां पांच लड़कियों के साथ लगभग बंदूक की नोक पर गैंगरेप किया गया। यह घटना मंगलवार की है। सभी महिलाएं खूंटी जिले के कोचांग गांव में स्थानान्तरण और मानव तस्करी को लेकर लोगों को जागरुक करने के लिए गई थीं। इस घटना का पता एक दिन बाद तब चला जब महिलाओं ने सामाजिक कार्यकर्ता को इसके बारे में बताया। उसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गई।



इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस का कहना है कि उसने संदिग्धों की पहचान कर ली है और उन्हें पकड़ने के लिए कई जगहों पर दबिश दी जा रही है। पुलिस ने गुरुवार को एफआईआर दर्ज की और रांची के डीआईजी अमोल वी होमकर ने मामले की जांच के लिए तीन टीमों का गठन किया है। सभी टीमें कोचांग गांव जाकर मामले की जांच करेंगी। 


पुलिस के अनुसार शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी आदीवासी गांवों में चलने वाले पत्थलगढ़ी आंदोलन से संबंधित हैं। इस आंदोलन के तहत पत्थर गाड़ कर गांव का सीमांकन किया जाता है। मगर अब इसकी आड़ में पत्थर पर भारतीय संविधान के अनुच्छेदों की गलत व्याख्या कर ग्राम सभा को उससे बड़ा बताया जा रहा है। साथ ही ग्रामीणों को आंदोलन के लिए उकसाया जा रहा है।

पुलिस के मुताबिक, घटना को अंजाम देने वाले अपराधी पत्थलगड़ी में शामिल रहे हैं। घटना मंगलवार 19 जून की है, जब नुक्कड़ नाटक के लिए बुलावे पर कोचांग के मिशनरी स्कूल में पहुंची नाटक मंडली का स्कूल से ही अपहरण कर लिया गया। महिलाओं ने बताया कि कार को बंद करने से पहले उनके पुरुष साथियों को पीटा गया और उन्हें उनकी ही पेशाब पीने के लिए मजबूर किया गया। इसके बाद आरोपी महिलाओं को जंगल में ले गए और उनका गैंगरेप किया और इस पूरी घटना को अपने फोन में रिकॉर्ड किया।

पीड़िताओं ने बताया कि उन्हें चार घंटों तक बंधक बनाकर रखा गया था। पुलिस मुख्यालय के हस्तक्षेप के बाद खूंटी में अधिकारियों की एक आपातकालीन बैठक बुलाई गई। होमकर का कहना है कि हमने पीड़िताओं और पुरुषों की पहचान कर ली है। सभी व्यस्क हैं। एफआईआर दर्ज करके एक मेडिकल बोर्ड बना दिया गया है। बोर्ड पीड़िताओं की मेडिकल जांच कर रहा है।

एक फादर की भूमिका संदिग्ध
 
खूंटी के एसपी अश्विनी सिन्हा ने कहा कि छह अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। नौ लोगों को हिरासत में लिया गया है। एक स्थानीय अखबार के मुताबिक एक फादर की भूमिका संदिग्ध बताई जा रही है। डीआईजी के हवाले से अखबार ने लिखा है कि दुष्कर्म मामले में कोचांग क्षेत्र के एक चर्च के फादर की भूमिका संदिग्ध है।  जांच में बहुत सी बातें सामने आयी है। इसमें कई लोगों का संदिग्ध आचरण सामने आया है कोई भी षड़यंत्र रचा गया है, तो उस पर से पर्दा उठाया जायेगा।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि ये घटना शर्मसार करने वाली है। अपराधियों के साथ-साथ घटना पर पर्दा डालने वालों पर सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी। 

महिला आयोग ने बनाया तीन सदस्यीय जांच दल

राष्ट्रीय महिला आयोग ने झारखंड के खूंटी में हुई सामूहिक बलात्कार की घटना की जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच दल गठित किया है। महिला आयोग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। पुलिस ने आज बताया कि एक गैर सरकारी संगठन के साथ काम करने वाली पांच महिलाओं के साथ कथित तौर पर बंदूक के बल पर कम से कम पांच पुरूषों के एक समूह ने बलात्कार किया। 

महिलाएं , मानव तस्करी और विस्थापन के मुद्दे पर झारखंड के खूंटी जिले के चोचांग गांव में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से गई थीं।अधिकारी ने बताया तीन सदस्यीय जांच दल बलात्कार के मामले की जांच खूंटी जाकर करेगा। आयोग ने झारखंड के पुलिस महानिदशेक डीके पांडे से मामले में की गई कार्रवाई की जानकारी देने को कहा है। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00