J&K: शहीद जवानों की आखिरी विदाई में उमड़ा जन सैलाब, देखकर उड़े दहशतगर्दो के होश

न्यूज डेस्क,अमर उजाला,जम्मू Updated Wed, 14 Feb 2018 11:52 AM IST
Last rites of Subedar manzoor ahmad conducted at his native village in Kupwara
शहीद जवान का पार्थिव शरीर - फोटो : SAQIB NABI
जम्मू के सुंजवां सेना कैंप पर हुए फिदायीन हमले में शहीद भारतीय सेना के जवानों की आखिरी विदाई में उमड़ी भीड़ से एक बार फिर से दहशतगर्द सख्ते में आ गए हैं। जैसे ही इन शहीद जवानों जवानों का पर्थिव शरीर जब उनके गांव पहुंचा तो उनकी आखिरी विदाई में उमड़े हुजूम को देख आतंकियों को हुक्मरान भी सख्ते में आगए। 
शहीद जवान अशरफ मीर के पैतृक निवास कुपवाड़ा पहुंचा तो बर्फबारी के बावजूद हजारों लोग शहीद जवान को श्रंद्धाजलि देने पहुंचे। कुछ ऐसा ही मंजर पुलवामा के त्राल में भी दिखा जहां पर शहीद जवान मो. इकबाल के पार्थिव शरीर जब उनके घर पहुंचा तो पूरे गांव में कोहराम मच गया। 

इस दौरान घाटी के युवाओं ने मिसाल पेश करते हुए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। शहीद जवानों को पूरे सैन्य सम्मान के साथ आखिरी विदाई दी गई। इस दौरान सेना के कई अधिकारी मौजूद रहे। 

हर शख्स की आंख से छलका आंसू
शहीद जवान अशरफ मीर और मो. इकबाल की आखिरी विदाई में मौजूद हर शख्स के गमगीन आंखों से दर्द भरे आंसू छलक रहे थे। हर किसी की जुबां पर बस एक ही सवाल था कि आखिर कब तक पाकिस्तान की नापाक हरकत की वजह से भारत के जवान शहीद होते रहेंगे।

हर किसी के चेहरे पर पाक के लिए गुस्सा और अशरफ के खोने की बेबसी साफ तौर पर देखी जा सकती थी। वहां मौजूद युवाओं ने पाक मुर्दाबाद के नारे लगाए और पाकिस्तान को इस नापाक हरकत के लिए सबक सिखाने की मांग की। 

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Chhattisgarh

जादू-टोने के शक में पड़ोसियों ने महिला और बेटी के सिर मुंडवाए फिर की घिनौनी हरकत

रांची के अंतर्गत आने वाले गांव में एक महिला ओर उसकी बेटी को जबरन मानव मल खिलाया गया है।

18 फरवरी 2018

Related Videos

सुंजवां हमले में शहीद जवान को आखिरी विदाई देने उमड़े लोग

जम्मू के सुंजवां सेना कैंप में हुए फिदायीन हमले में शहीद जवान मंजूर अहमद का शव पूरे राजकीय सम्मान के साथ तिरंगे में लपेटकर उनके पैतृक निवास पहुंचाया गया।

14 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen