लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu ›   Jammu kashmir NC leader Farooq Abdullah said those who spread communal hatred are like mad dog

फारूक अब्दुल्ला ने कहा, पागल कुत्ते की तरह हैं सांप्रदायिक द्वेष फैलाने वाले

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू Updated Thu, 19 Jul 2018 06:38 PM IST
फारूख अब्दुल्लाह , कश्मीर
फारूख अब्दुल्लाह , कश्मीर
विज्ञापन
ख़बर सुनें

जम्मू कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के संरक्षक डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने आज के हिन्दुतान को पहले की तुलना में काफी बदला हुआ बताया। उन्होंने कहा कि कुछ साम्प्रदायिक ताकतें हैं जो नहीं चाहते कि हिंदुस्तान और पाकिस्तान के बीच हालात सुधरें।

 

उत्तरी कश्मीर के सीमान्त जिले कुपवाड़ा में एक कार्यक्रम के दौरान डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज वो ताकतें हैं जो यहां अमन नहीं चाहती है क्योंकि उनका धंधा ही हमारे मरने से चलता है। डॉ. फारूक ने कहा कि वो ताकतें नहीं चाहती कि हिन्दुस्तान और पकिस्तान के बीच माहौल सुधरे, दोस्ती हो, हम इन दोनों देशों के बीच बिगड़े हालातों के शिकार होते आये हैं।

 

उन्होंने कहा कि जो साम्प्रदायिकता हमारे मुल्क में भी बढ़ रही है उससे रब ही हमें बचाए। आज देश में मुसलमानों को उस तरह से मरवाया जा रहा है जिसे मैं बयां नहीं कर सकता।

 

गौरतलब है कि डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने इन साम्प्रदायिक ताकतों को “पागल कुत्ता” ठहराया और कहा कि यह ताकतें समझती है कि केवल उनका ही वजूद हो बाकी कोई और न रहे। यह आज का हिंदुस्तान है जो हम समझते है, लेकिन यह अब वैसा नहीं रहा। उन्होंने कहा कि सभी का बराबर का इस देश पर हक है लेकिन कुछ ताकतें इसको बदलना चाहती हैं। डॉ. फारूक ने सिख, मुस्लिम, ईसाई, आदि धर्मों का नाम लेते हुए कहा कि यह मुल्क सबका है, और रब हमें ऐसी ताकतों से बचाए जो साम्प्रदायिकता को बढ़ावा दे रही हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00