लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu News ›   Jammu Kashmir Assembly Elections: Farooq and Mehbooba announced, PAGD will fight the elections together

Jammu Kashmir : फारूक और महबूबा ने की घोषणा, पीएजीडी जम्मू-कश्मीर में मिलकर लड़ेगा विधानसभा चुनाव

अमर उजाला नेटवर्क, श्रीनगर Published by: विमल शर्मा Updated Tue, 05 Jul 2022 04:28 PM IST
सार

चुनाव आयोग ने केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव कराने की तैयारियों को तेज कर दिया है। इसने जम्मू व कश्मीर में परिसीमन अभ्यास के बाद मतदाता सूचियों में संशोधन शुरू किया है। माना जा रहा है कि अंतिम मतदाता सूची तैयार होने के बाद विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। 

उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला
उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला - फोटो : twitter.com/OmarAbdullah
विज्ञापन

विस्तार

नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने कहा कि गुपकार घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) जम्मू-कश्मीर में मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेगा। ये दोनों पार्टियां पीएजीडी के मुख्य घटक दल हैं। नेकां अध्यक्ष एवं पीएजीडी के प्रमुख डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि हम एक साथ चुनाव लड़ेंगे। जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट का नाम लिए बगैर कहा कि एक राजनीतिक दल है, जिसने कहा कि उसने गठबंधन छोड़ दिया है। सच्चाई यह है कि वे कभी गठबंधन का हिस्सा नहीं थे। वे हमें भीतर से तोड़ने आए थे।

सरकार जब चाहे चुनाव करा सकती है

कहा, सरकार जब चाहे चुनाव करा सकती है। जब बाढ़ आई थी तब भी चुनाव हुए थे तो अब क्यों नहीं हो सकते?  सवाल यह है कि वे चुनाव कैसे लड़ना चाहते हैं। वहीं पीडीपी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी कहा कि हम एक साथ चुनाव लड़ने का इरादा रखते हैं। क्योंकि यह लोगों की इच्छा है कि हमें अपनी खोई हुई गरिमा की बहाली के लिए मिलकर प्रयास करना चाहिए।

विधानसभा चुनाव कराने की तैयारी तेज

ज्ञात हो कि चुनाव आयोग ने केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव कराने की तैयारियों को तेज कर दिया है। इसने जम्मू व कश्मीर में परिसीमन अभ्यास के बाद मतदाता सूचियों में संशोधन शुरू किया है। माना जा रहा है कि अंतिम मतदाता सूची तैयार होने के बाद विधानसभा चुनाव हो सकते हैं। 

अमरनाथ यात्रियों का कश्मीर ने हमेशा किया स्वागत

अमरनाथ यात्रा के बारे में डॉ. फारूक ने कहा कि कश्मीर के लोगों ने वर्षों से तीर्थयात्रा के सुचारु संचालन को पूरे दिल से सुनिश्चित किया है। कश्मीर के लोगों ने अमरनाथ यात्रियों का हमेशा स्वागत किया। गुफ ा की खोज करने वाला व्यक्ति पहलगाम का रहने वाला मुसलमान था। कभी भी मुसलमान ने किसी धर्म के खिलाफ  उंगली नहीं उठाई है, वे भाईचारे में रहे। मैं मानता हूं कि 90 के दशक में वह हवा आई, पर वह हमारी हवा नहीं थी। वह कहीं और से आई थी और उसका खामियाजा हम आज भी भुगत रहे हैं।

अच्छा होगा कि लोग अपने दम पर हर घर में फहराएं तिरंगा

डॉ.अब्दुल्ला ने कहा, सरकार हर घर में राष्ट्रीय ध्वज फ हरा सकती है। लेकिन यह बहुत अच्छा होगा जब लोग अपने दम पर तिरंगा फहराएं न कि फ रमान के कारण। फरमानों से कभी तिरंगा उड़ नहीं सकता, तिरंगा दिल में होना चाहिए तब बात बनेगी। फारूक ने कहा कि अगर इस मुल्क ने तरक्की करनी है तो यह मोहब्बत से संभव है। जब हम लोग विविधता को नहीं भूलेंगे। यह मुल्क सांस्कृतिक, भाषाई आदि तौर पर विविध है।

आने वाला समय अच्छा देख रहा:अब्दुल्ला

हमें इस विविधता को सुरक्षित रखना है और तभी यह मुल्क आबाद रहेगा। देश में धर्म के नाम पर पैदा होने वाले हालातों को लेकर उन्होंने कहा कि शैतान हर वक्त रहा है और हर वक्त रहेगा। मगर यहां शैतान बहुत कम हैं और अल्लाह के बंदे बहुत ज़्यादा। मुझे उम्मीद है कि वह शैतान को बाहर निकाल देंगे। मैं आने वाला समय अच्छा देख रहा हूं। उन्होंने कहा कि यहां लोकतंत्र ही चलेगा। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00