विज्ञापन
विज्ञापन

जम्मू-कश्मीर के बनिहाल में व्यापारी की चार हजार रुपये के लिए हत्या, दो गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, उधमपुर Updated Sat, 20 Jul 2019 01:36 AM IST
आरोपी को घटनास्थल पर लेकर पहुंची पुलिस(इनसेट में मृत व्यापारी)
आरोपी को घटनास्थल पर लेकर पहुंची पुलिस(इनसेट में मृत व्यापारी) - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

खास बातें

  • हत्यारों ने घटना को अंजाम देने के बाद जमीन में दबा दिया था शव 
  • परिवार वालों के प्रदर्शन के कारण अमरनाथ यात्रा दो घंटे रोकनी पड़ी
उधमपुर के जिब जंगलगली में रहने वाले दो युवकों ने भेड़-बकरियों का व्यापार करने वाले बनिहाल निवासी व्यापारी गुलाम रसूल की चार हजार रुपये के लिए हत्या कर शव को जमीन में दफना दिया। संदेह के आधार पर टिकरी पुलिस ने आरोपी आशिक अली व करीम दीन से सख्ती के साथ पूछताछ की तो उसने जुर्म कबूल कर लिया। शुक्रवार को आरोपी की निशानदेही पर व्यापारी का शव भी बरामद कर लिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले बनिहाल में व्यापारी के लापता होने के कारण परिवार वालों ने प्रदर्शन किया। इसके चलते अमरनाथ यात्रा को दो घंटे के लिए रोकना पड़ा। 
विज्ञापन
रामबन जिले के बनिहाल के रहने वाले का गुलाम रसूल (46) पुत्र शमशदीन भेड़ बकरियों को बेचने व खरीदने का काम करता था। 12 जुलाई को शमशदीन भेड़ बकरियां खरीदने के लिए उधमपुर के जंगलगली इलाके में पहुंचा और फिर वापस नहीं लौटा। इस पर परिवार के सदस्यों ने उधमपुर पहुंच कर उसके लापता होने की शिकायत टिकरी पुलिस चौकी में दर्ज करवाई। पुलिस ने तलाश शुरू कर दी। 

पुलिस की टीम ने जब जंगलगली जाकर तलाश व पूछताछ शुरू की तो पता चला कि 12 जुलाई को गुलाम को आशिक अली और करीम दीन के साथ जंगल की तरफ जाते हुए देखा गया था। पुलिस ने दोनों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया। पहले तो दोनों कुछ बताने को तैयार नहीं हुए, लेकिन जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो दोनों ने उसकी हत्या का जुर्म कबूल कर लिया।
 
बार-बार अपने पैसे मांगना पड़ा महंगा
आशिक अली ने पुलिस को बताया कि उसने गुलाम रसूल से चार हजार रुपये उधार लिए थे और वह इस राशि को चुका नहीं पा रहा था। गुलाम उससे बार-बार रुपये मांग रहा था। 12 जुलाई को जब वह जंगलगली पहुंचा तो उसने फिर रुपये मांगे। उसने उससे कहा कि उसके पास एक बकरी है। वह बकरी ले और उसका उधार खत्म हो जाएगा। वह गुलाम को बकरी देने का झांसा देकर अपने साथ जंगल में सुनसान इलाके में ले गया। इस दौरान उसके साथ करीम दीन भी साथ था। दोनों ने जंगल ले जाकर उसकी की हत्या कर दी और शव को दफना दिया। 

आरोपियों की निशानदेही पर जंगल से बरामद किया गया शव
शुक्रवार को पुलिस की टीम दोनों आरोपियों को अपने साथ लेकर जंगलगली पहुंची और दोनों की निशानदेही पर शव को बरामद किया। पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचा दिया है। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद शव को परिवार के हवाले कर दिया जाएगा।
विज्ञापन

Recommended

शेयर मार्केट, अब नहीं रहेगा गुत्थी
Invertis university

शेयर मार्केट, अब नहीं रहेगा गुत्थी

समस्या कैसी भी हो, पाएं इसका अचूक समाधान प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से केवल 99 रुपये में
Astrology Services

समस्या कैसी भी हो, पाएं इसका अचूक समाधान प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्यों से केवल 99 रुपये में

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Jammu

श्रीनगर से दिल्ली लौटाए गए राहुल और अन्य नेता, केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्षी दलों के प्रतिनिधिमंडल को श्रीनगर से वापस भेज दिया गया है। विपक्षी नेताओं के श्रीनगर हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद वहां हंगामा शुरू हो गया था। प्रशासन ने उन्हें हवाई अड्डे से बाहर जाने की इजाजत नहीं दी थी।

24 अगस्त 2019

विज्ञापन

जेटली को याद कर बहरीन में बोले पीएम मोदी, मेरा दोस्त चला गया

पीएम मोदी ने बहरीन में अरुण जेटली को याद करते हुए कहा मेरे अंदर गहरा शोक है। कुछ दिन पहले बहन सुषमा चली गईं, और अब मैंने अपने सबसे अजीज मित्र अरुण जेटली को खो दिया।

24 अगस्त 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree