लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   Jammu News ›   Amarnath Yatra 2022: Three-day journey can stopped base camps due bad weather

Amarnath Yatra 2022: मौसम खराब होने पर आधार शिविरों में रोकी जा सकेगी तीन दिन की यात्रा, सेना ने भी तैयार किए हैं 1800 टेंट

अमर उजाला नेटवर्क, जम्मू Published by: विमल शर्मा Updated Mon, 27 Jun 2022 11:53 AM IST
सार

लखनपुर से लेकर कश्मीर में आधार शिविरों में 1.30 लाख अमरनाथ यात्रियों को रोकने के प्रबंध किए गए हैं। इसमें कश्मीर के आधार शिविरों को छोड़कर अनंतनाग जिले में आठ हजार, जम्मू में यात्री निवास में 1600-1800, कठुआ में पांच हजार, सांबा में आठ हजार यात्रियों के  ठहरने के प्रबंध किए गए हैं।

अमरनाथ यात्रा के लिए साधू-संतों जम्मू पहुंचने लगे हैं। स्थानीय राम मंदिर में भोजन करते  साधु व अन्य लोग।
अमरनाथ यात्रा के लिए साधू-संतों जम्मू पहुंचने लगे हैं। स्थानीय राम मंदिर में भोजन करते साधु व अन्य लोग। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

दो साल बाद 30 जून से हो रही अमरनाथ यात्रा के लिए आधार कैंपों में टेंट सिटी बनकर तैयार है। मौसम खराब होने की स्थिति में आधार शिविरों में तीन दिन की यात्रा रोकी जा सकेगी। यानी तीन दिन की यात्रा से जुड़े श्रद्धालुओं को रहने, खाने-पीने में किसी प्रकार की दिक्कत सामने नहीं आएगी। पूरे श्राइन क्षेत्र में 70 हजार से अधिक यात्रियों के ठहरने का प्रबंध किया गया है।

आधार शिविरों में 1.30 लाख अमरनाथ यात्रियों को रोकने के प्रबंध

श्राइन बोर्ड से जुड़े उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि लखनपुर से लेकर कश्मीर में आधार शिविरों में 1.30 लाख अमरनाथ यात्रियों को रोकने के प्रबंध किए गए हैं। इसमें कश्मीर के आधार शिविरों को छोड़कर अनंतनाग जिले में आठ हजार, जम्मू में यात्री निवास में 1600-1800, कठुआ में पांच हजार, सांबा में आठ हजार यात्रियों के  ठहरने के प्रबंध किए गए हैं।

बालटाल आधार शिविर में 1200 टेंट तैयार 

श्री अमरनाथ तीर्थयात्रियों के लिए बालटाल आधार शिविर में टेंट लगाने का कार्य अंतिम चरण में है। शिविर निदेशक एनएस जामवाल ने बताया कि सोनमर्ग के बालटाल में पहले से ही करीब 1200 टेंट तैयार हैं। सेना, जिला प्रशासन और श्राइन बोर्ड की मदद से अब 500 टेंट और लगाए जा रहे हैं। इनमें से प्रत्येक टेंट में 10 लोग रह सकते हैं। इससे स्थानीय लोगों को भी रोजगार के अवसर मिल रहा है।

प्रत्येक टेंट में 10 से 12 यात्री रुक सकते हैं

रामबन जिले के चंद्रकोट में नवनिर्मित यात्री निवास में 3200 श्रद्धालुओं को ठहराने के प्रबंध किए गए हैं। पहले लगभग 60 हजार यात्रियों को ठहराने की क्षमता थी। सूत्रों ने बताया कि सेना ने भी अमरनाथ यात्रियों के लिए बेस कैंप में प्रबंध किए हैं। लगभग 1800 टेंट सेना ने तैयार किए हैं। प्रत्येक टेंट में 10 से 12 यात्री रुक सकते हैं। 

प्री पेड बूथ से ही मिलेंगे पिट्ठू, घोड़े वाले

श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने यात्रियों को ओवर चार्ज से बचाने के लिए इस बार प्री पेड बूथ की व्यवस्था की है। इन बूथों से निर्धारित दर पर पिट्ठू, घोड़े वाले मिलेंगे। बिना प्री पेड बूथ के इन सेवाओं को नहीं लिया जा सकता है। बोर्ड प्रशासन का कहना है कि इससे श्रद्धालुओं को अधिक राशि का भुगतान नहीं करना होगा।

हेलिपैड भी नए बनाए गए

श्राइन बोर्ड प्रशासन ने बताया कि श्रीनगर से इस बार शुरू की गई हेलिकॉप्टर सेवा के लिए हुमहामा में हेलीपैड बनाया गया है। इसके अलावा पहलगाम व नीलग्राथ में दो-दो नए हेलीपैड बनाए गए हैं। आपातकालीन हेलीपैड भी तैयार किए गए हैं। श्रीनगर से हेलिकॉप्टर सुविधा से अब यात्रियों को एक ही दिन में बाबा बर्फानी के दर्शन हो सकेंगे। 

विज्ञापन

बालटाल से दोमेल तक 15 बैटरी कार

इस बार बालटाल से दोमेल तक श्रद्धालुओं को बैटरी कार सुविधा भी मिलेगी। यह सुविधा मुफ्त में होगी। इसके लिए 15 बैटरी कार होंगी। बैटरी कार बुजुर्गों, बीमारों और अशक्तों को मिलेगी। साधुओं की यात्रा बिल्कुल मुफ्त होगी। 

टेंट सिटी की क्षमता

  • नुनवान 8000 
  • शेषनाग 13000
  • पंजतरणी 23000
  • बालटाल 25000
  • पवित्र गुफा 1500


अमरनाथ यात्रा की पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। बाबा भोले के भक्तों को प्रवेश द्वार लखनपुर से लेकर कश्मीर में आधार शिविर व पवित्र गुफा तक किसी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए आवश्यक प्रबंध किए गए हैं। इस बार यात्रियों को ठहराने की क्षमता में लगभग दोगुना बढ़ोतरी की गई है। मौसम खराब होने की स्थिति में तीन दिन की यात्रा रोकने के प्रबंध किए गए हैं। - नीतीश्वर कुमार, सीईओ-श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00