आज से जम्मू में होगा सरकार का दरबार

जम्मू/ब्यूरो Updated Mon, 05 Nov 2012 02:31 PM IST
capital of jammu and kashmir has shifted to jammu
रियासत की शीतकालीन राजधानी जम्मू के नागरिक सचिवालय में सोमवार से आगामी छह महीनों तक सरकार का दरबार लगेगा। मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला को सुबह साढ़े नौ बजे गार्ड ऑफ ऑनर के साथ ही सचिवालय में कामकाज शुरू हो जाएगा। इस दौरान चार हजार से अधिक मुलाजिम सचिवालय में हाजिर रहेंगे। इस संबंध में रविवार को सचिवालय में सभी तैयारियां पूरी कर ली गईं। रियासत के चीफ सेक्रेटरी माधव लाल ने आला अफसरों की टीम के साथ सचिवालय का दौरा कर प्रबंध जांचे। दरबार मूव की परंपरा के तहत श्रीनगर में गत 26 अक्तूबर को सचिवालय बंद हो गया था।

दरबार मूव होने के साथ ही सचिवालय और शहर के आसपास क्षेत्रों में सुरक्षा का पुख्ता बंदोबस्त किया गया है। सुरक्षा बलों की सात कंपनियां तैनात की गई हैं। बख्तर बंद गाड़ियां भी महत्वपूर्ण चौराहों पर तैनात रहेंगी। वीआईपी मूवमेंट की सुरक्षा के मद्देनजर सचिवालय के सामने से गुजरने वाले मार्ग को बंद किए जाने के साथ ही ट्रैफिक रूट में भी बदलाव किया गया है। ड्यूटी ज्वाइन करने के लिए कश्मीर डिवीजन के दो हजार से अधिक कर्मचारी भी देर शाम जम्मू पहुंच गए। इनके लिए श्रीनगर से जम्मू तक एसआरटीसी ने बसों की व्यवस्था की थी।

सचिवालय में कर्मचारियों को इस दफा कॉरपोरेट तर्ज पर दो नये हॉल भी मिलेंगे। सचिवालय के टॉप फ्लोर के ऊपर बनाए गए दो नये हॉल में भी कुछ विभागों का स्टाफ शिफ्ट किया जाएगा। रियासत के चीफ सेक्रेटरी माधव लाल ने सचिवालय दौरे के दौरान संबंधित अफसरों को हर कार्यालय और विभाग में कंप्यूटर और इंटरनेट सुविधा देने की हिदायतें दीं। माधव लाल ने हर ब्लॉक में बिजली, पानी, टेलीफोन और फर्नीचर की व्यवस्था के अलावा सेनिटेशन का भी जायजा लिया।

उन्होंने आला अफसरों की टीम के साथ सचिवालय कर्मचारियों के आहता अमर सिंह पंजतीर्थी, कंपनी बाग और बीसी रोड स्थित क्वार्टरों का दौरा कर प्रबंधों की समीक्षा की। अफसरों की टीम में मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव बीबी व्यास, मंडलायुक्त प्रदीप गुप्ता, निदेशक सूचना विभाग जफर अहमद, निदेशक इस्टेट रमेश कौल और जिलाधीश जम्मू संजीव वर्मा शामिल थे। सोमवार सुबह शहर के हर चौक और चौराहे पर अतिरिक्त पुलिस कर्मी तैनात दिखेंगे। ट्रैफिक पुलिस के दो दर्जन जवानों को भी जाम की स्थिति से निपटने के लिए तैनात किए गए हैं। जम्मू कश्मीर पुलिस के अलावा सीआरपीएफ जवानों को भी तैनात किया गया है।

आईजी जम्मू दिलबाग सिंह की अध्यक्षता में रविवार को एक बार फिर सुरक्षा का जायजा लेने के लिए बैठक की गई। जबकि एडीजीपी डॉ. एसपी वैद ने पुलिस हेडक्वार्टर का दौरा करके सोमवार को खुलने वाले हेडक्वार्टर की सुरक्षा व अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी हासिल की। एसएसपी ट्रैफिक मनमोहन सिंह ने भी शहर के प्रमुख चौराहों, व्यस्त चौराहों का दौरा करके ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव के लिए जरूरी आदेश दिए। ट्रैफिक सिग्नल के पालन को लेकर भी ट्रैफिक जवानों को मुस्तैद रहने के आदेश दिए गए हैं।

Spotlight

Most Read

Meerut

दो सगी बहनों से साढ़े चार साल तक गैंगरेप, घर लौट आई एक बेटी ने सुनाई आपबीती

दो बहनों का अपहरण कर तीन लोगों ने साढ़े चार वर्ष तक उनके साथ गैंगरेप किया। एक पीड़िता आरोपियों की चंगुल से निकल कर घर लौट आई। उसने परिवार को आपबीती सुनाई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

मरने के बाद भी जिंदा रहेंगे ये बॉलीवुड कलाकार, आप भी देखें, कैसे...

बॉलीवुड कलाकारों को हम सिर्फ मनोरंजन की नजर से देखते हैं। लेकिन कुछ कलाकारों के नेक कामों को जानकार आप उनकी इज्जत पहले से ज्यादा करने लगेंगे...आइए देखते हैं कैसे...

21 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper