चालान से नहीं माने, अब जमीर जगाएगी पुलिस

Jammu Updated Thu, 20 Dec 2012 05:30 AM IST
जम्मू। 12 दुर्घटनाएं, 18 जख्मी और दो मौतें। यह जम्मू संभाग में सड़क हादसों का प्रत्येक दिन का औसतन आंकड़ा है। ज्यादातर हादसे ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन का परिणाम हैं। ऐसा नहीं है कि नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के चालान ट्रैफिक पुलिस नहीं काटती लेकिन इसके बावजूद नियमों का उल्लंघन बदस्तूर जारी है। सड़क हादसों से रोजाना होने वाली असमय मौतों को रोकने की जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अनूठी कवायद की है। इसके तहत अब लोगों को जागरूक करने की कोशिश की जा रही है। आईजी दिलबाग सिंह का कहना है, ‘चालानों से नहीं माने, अब जमीर जगाने का पुलिस प्रयास करेगी।’
आईजीपी ने पुलिस कंट्रोल रूम में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि रोजाना कई चालान ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों के काटे जाते हैं, लेकिन वाहन चालक फिर भी इससे सबक नहीं ले रहे हैं। सिर्फ जम्मू संभाग में ही पिछले तीन वर्षों में सड़क हादसों में 2400 लोगों की जान गई। हजारों लोग जख्मी हुए लेकिन ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन बदस्तूर जारी है। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने अब वाहन चालकों को ट्रैफिक नियमों के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया है। इसके तहत 23 दिसंबर को सात स्थानों से एक साथ बाइक रैली निकाली जाएगी। जो एमए स्टेडियम में आकर संपन्न होगी। यह एक कार्यक्रम होगा, जिसमें एक डाक्यूमेंट्री फिल्म के अलावा हादसों की फोटो प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इस दौरान बाइकर्स एक शपथ पत्र भरेंगे कि वे भविष्य में ट्रैफिक नियमों का पूरी तरह पालन करेंगे। इस अनूठी पहल का नाम ‘आई प्लेज टू रोड सेफ्टी’ (मैं सड़क सुरक्षा के लिए प्रतिज्ञा करता हूं।) रखा गया है।
23 दिसंबर की सुबह निर्धारित स्थानों सेें हजारों लोग बाइकों पर निकलेंगे। इसके लिए सांबा, नगरोटा, आरएस पुरा, घरोटा, अखनूर, बिश्नाह और तालाब तिल्लो (बोहड़ी) में स्टार्टिंग प्वाइंट रखे गए हैं। खास बात यह है कि रैली के कुछ स्थानों से रियासत के गृहमंत्री, डीजीपी, एडीजीपी, आईजीपी, डीआईजी, एसएसपी और अन्य पुलिस अफसर भी बाइक पर ही शिरकत करते नजर आएंगे। आईजीपी ने कहा कि इसके लिए हायर सेकेंडरी स्कूल, कालेजों, पंचायतों, औद्योगिक संगठनोें, टैक्सी एसोसिएशन, पुलिस कर्मियों के अलावा अन्य लोगों को रैली के लिए लामबंद किया गया है। खास बात यह है कि इस मुहिम में रियासत में चलने वाली तमाम टेलीकॉम कंपनियां भी भाग ले रही हैं। जल्द ही 91 लाख मोबाइल उपभोक्ताओं को एसएमएस से इस अनूठी रैली में शामिल होने का न्योता मिलेगा। इस अनूठी रैली के पहले चरण में सिर्फ बाइक, स्कूटर, स्कूटी चालकों को शामिल किया गया है, क्योंकि ज्यादातर हादसे बाइक सवारों के साथ ही होते हैं। अगले चरण में बड़े वाहनों को भी शामिल किया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

भारतीय डाक में निकलीं 2,411 नौकरियां, ऐसे करें अप्लाई

करियर प्लस के इस बुलेटिन में हम आपको देंगे जानकारी लेटेस्ट सरकारी नौकरियों की, करेंट अफेयर्स के बारे में जिनके बारे में आपसे सरकारी नौकरियों की परीक्षाओं या इंटरव्यू में सवाल पूछे जा सकते हैं और साथ ही आपको जानकारी देंगे एक खास शख्सियत के बारे में।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls