बाजार हुए बंद, सड़कें रहीं सूनीं

Jammu Updated Fri, 21 Sep 2012 12:00 PM IST
जम्मू। डीजल की कीमतों में वृद्धि, एलपीजी गैस में सब्सिडी घटाने और रिटेल सेक्टर में विदेशी निवेश को अनुमति के विरोध में आयोजित भारत बंद का जम्मू और आसपास के इलाकों में व्यापक असर देखने को मिला। जम्मू शहर में तमाम व्यापारिक संस्थान, सिनेमा घर, बाजार खुद ब खुद बंद रहे। इसके अलावा सड़कों से बस, ट्रक, मेटाडोर और अन्य वाहन नदारद रहे। सड़कें सूनी नजर आईं। सामान्य दिनों में व्यस्त नजर आने वाले बिक्रम चौक, डोगरा चौक, बस स्टैंड, शालामार आदि इलाके सूने दिखे। इससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। सरकारी कार्यालय, बैंक और स्कूल खुले, लेकिन वहां उपस्थिति कम दिखी। हालांकि बद के दौरान रियासत में पेट्रोल पंप खुले रहे और सड़कों पर चंद आटो जरूर दौड़ते नजर आए। जगह-जगह विभिन्न राजनीतिक दलों, व्यापारिक और सामाजिक संगठनों ने रैलियां निकाल केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। शाम होते ही तमाम बाजारों में दुकानें खुलने लगीं। सड़काें पर वाहन भी नजर आने लगे। जानकारोें की माने तो एक दिन के बंद में जम्मू शहर में ही करोड़ोें का कारोबार प्रभावित हुआ। रियासत की सबसे बड़ी मंडी वेयरहाउस के मुख्य गेट तक नहीं खुले, जहां रोजाना 4-5 करोड़ रुपये का कारोबार होता है। इसके अलावा हमेशा ग्राहकोें से भरे रहने वाले रघुनाथ बाजार, सिटी चौक, लिंक रोड, अप्सरा बाजार आदि में दुकानें न खुलने से सड़कें सूनी नजर आईं। शहर के कुछ स्कूलोें ने खुद ही छुट्टी की घोषणा कर दी थी, जबकि जो स्कूल खुले वहां छात्र-छात्राओं की उपस्थिति काफी कम नजर आई। इसके अलावा सरकारी कार्यालयों में काम करने वाले मुलाजिमों को आफिस पहुंचने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। लोगों की समस्याओं को देखते हुए कई स्थानों पर आटो चालक मनमाना किराया लेते देखे गए। खासकर बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकोें और श्रद्धालुओं को वाहन न मिलने से परेशान देखा गया। चैंबर आफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज (जम्मू) ने बंद स्वत: होने को केंद्र सरकार की नीतियोें के खिलाफ लोगों का रोष बताया। चैंबर ने तमाम व्यापारियोें, दुकानदारोें, ट्रांसपोर्टरों और संगठनोें का बंद में सहयोग करने पर शुक्रिया अदा किया। इसके अलावा बंद का समर्थन करने वाले तमाम राजनीतिक दलों ने केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए फैसलों को रोलबैक करने की अपील की।

बंद से रेल यात्री रहे परेशान
जम्मू। रेल यात्री भी बंद के दौरान काफी प्रभावित रहे। कई यात्रियों ने स्टेशन के नजदीक होटलों में ही ठहरना सही समझा, जबकि शहर और आसपास क्षेत्र के यात्री पैदल ही रवाना हो गए। ऐसा ही हाल स्टेशन पहुंचने वालों का भी रहा। यात्री लिफ्ट के जरिये और किसी करीब के साथ स्टेशन पर पहुंचे। सबसे अधिक दिक्कत जम्मू से अन्य जिलों में जाने और आने वाले रेल यात्रियों के लिए रही। स्टेशन से कटड़ा तक जाने वाली प्राइवेट गाड़ियां भी वीरवार को बंद रही। इन यात्रियों को टूरिज्म व राज्य परिवहन निगम की गाड़ियों से ही कटड़ा जाना पड़ा। स्टेशन पर इन दोनों विभागों ने अतिरिक्त गाड़ियां लगा रखी थी। यात्रियों की सुविधा के लिए टूरिज्म विभाग ने विशेष काउंटर भी खोला था। आटो चालकों ने फायदा उठाते हुए लोगों से मनमाने रेट वसूले। गाड़ियों से खचाखच भरा रहने वाला स्टेशन बंद के कारण खाली खाली दिखा।

टायर जलाकर भड़ास निकाली
जम्मू (ब्यूरो)। भारतीय जनता पार्टी और भारतीय चैतन्य पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जम्मू बंद के दौरान टायर जलाकर रिटेल क्षेत्र में एफडीआई को मंजूरी के अलावा डीजल और रसोई गैस पर केंद्र की यूपीए सरकार के फैसलों का कड़ा विरोध किया। पुरानी मंडी में भाजपा नेता युद्धवीर सेठ और अन्य कार्यकर्ताओं ने टायर जलाकर यूपीए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। अंबफला में भारतीय चैतन्य पार्टी (बीसीपी) के कार्यकर्ताओं ने टायर जलाकर यूपीए सरकार के फैसलों की निंदा करते हुए इन्हें जन विरोधी बताया। भाजपा की रोष रैली के दौरान पुलिस के कड़े इंतजाम रहे। एसपी सिटी के अलावा अन्य स्तर के अधिकारी व बड़ी संख्या पुलिस बल सड़कों पर तैनात रहा। बहरहाल रैली के शांतिपूर्ण रहने से कोई अप्रिय घटना नही हो पाई।

वाम दलों ने भी किया प्रदर्शन
जम्मू। यूपीए सरकार के रिटेल क्षेत्र में एफडीआई, डीजल और एलपीजी पर फैसले के खिलाफ वीरवार को वाम दलों के भारत बंद के आह्वान पर जम्मू में सीपीआई (एम) कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और यूपीए सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर भड़ास निकाली। प्रेस क्लब के बाहर से कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली विभिन्न बाजारों से होते सिटी चौक में संपन्न हुई। क्षेत्रीय सचिव शाम प्रसाद केसर ने कहा कि यूपीए ने रिटेल क्षेत्र में 51 फीसदी एफडीआई को मंजूरी देकर मल्टी नेशनल रिटेलर्स को देश के बाजारों में आने का मौका दे दिया है। उन्होंने कहा कि इससे देश में करोड़ों लोगों का रोजगार छिन जाएगा। सीटू के महासचिव ओम प्रकाश ने कहा कि यूपीए सरकार के फैसलों से महंगाई कई गुणा बढ़ जाएगी। इस अवसर पर किशोर कुमार, बनारसी दास, सोहन लाल, धर्म सिंह, वीके वेद, सुनीता भगत, कांता देवी, दिनेश, कैलाश व बाबा राम ने भी अपने विचार प्रकट किये।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: इसे नहर से बाहर निकालने में वन विभाग के छूटे पसीने

महाराष्ट्र के भंडारा जिले के गोसीखुर्द बांध की नहर में फंसे एक बारहसिंगा का रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper