एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा में हेराफेरी

Jammu Updated Wed, 29 Aug 2012 12:00 PM IST
जम्मू। सीबीआई ने एस्काम अस्पताल में एमबीबीएस प्रवेश परीक्षा में उम्मीदवारों के स्थान पर अन्य लोगों द्वारा परीक्षा देेने के मामले का चालान पेश कर दिया। इस मामले में पूर्व मंत्री गुलाम मोहम्मद सरूरी को अपने पद से इस्तीफा भी देना पड़ा था। पूर्व मंत्री के वकील सुधीर शर्मा ने इस चालान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सरूरी का इस मामले में कोई लेना देना नहीं है। 
सीबीआई चालान में गुलाम मोहम्मद सरूरी की बेटी हुमा तब्बसुम, बेटे मुनीब अहमद, शीतल गुप्ता पुत्री अंजानी गुप्ता, अरशी किरण पुत्री डा. अजीत कुमार चौधरी, डा. अजीत कुमार चौधरी, डा. केडी सिंह, पंकज कुमार प्रियदर्शनी पुत्र रविंद्र सिंह कन्हैया कुमार वत्स, कुंज बिहारी, राकेश गुप्ता, पायल अग्रवाल, रतन लाल सहगल, विकास कुमार पाल, हेमंत सिंह रजावत और भरत अबरोल के नाम शामिल हैं। चालान में दो आरोपी पंकज कुमार प्रियदर्शनी और हेमंत कुमार रजावत को माफी देकर दोनों को सरकारी गवाह बनाने की भी अपील की गई। चालान के अनुसार 9 जून 2010 को एमबीबीएस/बीडीएस में प्रवेश के लिए नोटिस जारी करके आवेदन मंगवाए गए। आवेदन एस्काम अस्पताल सिद्दड़ा में मैनेजमेंट कोटे के लिए मांगे गए थे। प्रवेश परीक्षा की तारीख 25 जुलाई 2010 रखी गई, जो बाद में बदलकर 21 अगस्त 2010 को रखी गई। परीक्षा के दौरान रोल नंबर 1000224 को हुमा तब्बसुम के नाम पर जारी हुआ। विश्वविद्यालय के सेंटर नंबर एक के हाल ए में हुमा को परीक्षा देनी थी। उसने प्रवेश कार्ड भी हासिल कर लिया। जांच के दौरान पाया हुमा को प्रवेश कार्ड एस्काम अस्पताल के कंप्यूटर आपरेटर रमेश चंद्र ने जारी किया और उस पर उसके हस्ताक्षर थे। हुमा के भाई मुनीब अहमद ने साजिश रची और छन्नी हिम्मत के भरत अबरोल से मुलाकात की। भरत अबरोल हुमा के भाई और मंत्री के पुत्र मुनीब का पार्टनर है। भरत और मुनीब ने हुमा की दसवीं और 12वीं की मार्कशीट को हासिल किया और उसे रतन लाल सहगल के हवाले कर दिया।
रमन लाल तालाब तिलो में मक्का ब्वाय कंसलटेंसी चलाता है। इस दस्तावेज को डा. केडी सिंह के हवाले किया। जो पूरे केस में किंगपिन था। डा केडी सिंह ने पायल अग्रवाल से संपर्क किया जिसने परीक्षा हाल में हुमा के स्थान पर परीक्षा देने को राजी हो गई। भरत अबरोल ने इसके लिए एक लाख रुपये एडवांस के तौर पर भी दिए और बाकी के रुपये
तीन किश्तों में दिए जाने थे। सीबीआई चालान के अनुसार इस मामले में हर आरोपी के केस में शामिल होने का अलग अलग से चालान पेश किया जाएगा। केस की जांच जारी है और एकसे अधिक चालान पेश किए जाने की संभावना है। जेएनएफ

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: इसे नहर से बाहर निकालने में वन विभाग के छूटे पसीने

महाराष्ट्र के भंडारा जिले के गोसीखुर्द बांध की नहर में फंसे एक बारहसिंगा का रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper