कम होने लगी आधार शिविर में गहमागहमी

Jammu Updated Sun, 22 Jul 2012 12:00 PM IST
जम्मू। अमरनाथ यात्रा के दौरान शहर में होने वाली चहल-पहल लगातार कम होने लगी है। इसकी वजह सीधे अमरनाथ श्रद्धालुओं का रुख बालटाल और पहलगाम की तरफ होना है। इससे भगवती नगर स्थित यात्री निवास आधार शिविर का अस्तित्व खतरे में पड़ने लगा है।
अगर आलम यही रहा, तो आने वाले वर्षों में भगवती नगर आधार शिविर का कोई महत्व नहीं रहेगा। स्थानीय पर्यटन उद्योग से जुड़े संगठनों और सियासी नेता भी इस मसले पर चिंता जाहिर कर चुके हैं। गत पच्चीस जून से शुरू हुई अमरनाथ यात्रा के बाद अब तक ऐसा एक भी मौका नहीं आया, जब अमरनाथ श्रद्धालुओं के जत्थे ने छह हजार का आंकड़ा क्रास किया हो। अधिकतम संख्या पांच हजार के करीब एक दो दफा ही रही। जम्मू वेस्ट से विधायक और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रो. चमन लाल गुप्ता का कहना है कि शहर में अमरनाथ श्रद्धालुओं को टिकाए रखने के लिए राज्य सरकार अथवा पर्यटन विभाग के पास कोई ठोस प्लान नहीं है। बकौल प्रो. गुप्ता अमरनाथ यात्रा का मसला तो डेढ़ दो महीने तक ही सीमित है। जब ट्रेन सीधी कटड़ा पहुंचेगी, उस सूरत में जम्मू में कौन रुकना और घूमना पसंद करेगा। इसके लिए कारगर प्लान बनाने की जरूरत है। जम्मू होटल एंड लाजेस एसोसिएशन के अध्यक्ष इंद्रजीत खजूरिया भी अमरनाथ श्रद्धालुओं की स्थानीय आधार शिविर में लगातार घट रही आमद से चिंतित है। खजूरिया का कहना है कि राज्य सरकार और प्रशासन की जम्मू विरोधी नीति की वजह से ही श्रद्धालु स्थानीय आधार शिविर में नहीं पहुंच रहे। बाईपास कुंजवानी से ही श्रद्धालुआें के वाहनों को नगरोटा की तरफ डाइवर्ट कर दिया जाता है। सिर्फ लेट पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को ही मजबूरी में प्रशासन और पुलिस यात्री निवास भेजते हैं। पिछले दिनों एसोसिएशन के शिष्टमंडल ने इस मसले पर स्वास्थ्य मंत्री शाम शर्मा के साथ भी समर सचिवालय में मुलाकात कर जम्मू हित में कदम उठाने की मांग की थी, लेकिन उनकी मांग को अभी तक नजरअंदाज किया जा रहा है।

Spotlight

Most Read

Rohtak

सीएम को भेजा पत्र

सीएम को भेजा पत्र

23 जनवरी 2018

Rohtak

एमटीएफसी

23 जनवरी 2018

Related Videos

भोजपुरी की 'सपना चौधरी' पड़ी असली सपना चौधरी पर भारी, देखिए

हरियाणा की फेमस डांसर सपना चौधरी को बॉलीवुड फिल्म का ऑफर तो मिल गया लेकिन भोजपुरी म्यूजिक इंडस्ट्री में उनके लिए एंट्री करना अब भी मुमकिन नहीं हो पा रहा है।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper