हड़ताल को सरकारी कर्मियों का पूरा समर्थन

उधमपुर/ब्यूरो Updated Thu, 08 Nov 2012 02:39 PM IST
strike got full support of government workers
राज्य सरकार की नीतियों के खिलाफ रियासत के सरकारी मुलाजिम अपनी जायज और लंबित मांगों के लिए बुधवार को हड़ताल पर रहे, जिसका असर उधमपुर में भी देखा गया। एआरटीओ दफ्तर, उधमपुर में मुलाजिम दफ्तर में पहुंचे, लेकिन अपने कामकाज को ठप रखा। जिससे यहां इस दफ्तर में काम के लिए आने वाले लोगों को भारी दिक्कतों से गुजरना पड़ा।

गौरतलब है कि ज्वाइंट कंस्लटेटिव कमेटी (जेसीसी) के बैनर तले मुलाजिम हड़ताल पर रहते हुए उधमपुर में अपने दफ्तर पहुंचे और अपने काम को प्रभावित रखा, जिससे दफ्तर के कामकाज पर असर पड़ा। कर्मियों की मांग है कि सेवानिवृत्ति की आयु 58 से बढ़ाकर साठ वर्ष किया जाए जबकि अस्थाई कर्मियों को स्थायी करने की मांग सरकार से की गई। वहीं, वेतन विसंगतियों को दूर करने की मांग की है।

जेसीसी के पदाधिकारी मुलकराज भमागी ने बताया कि जेसीसी के बैनर तले मुलाजिम अपनी मांगों को सरकार के सामने रख रहे हैं। अपनी मांगों को लोकतांत्रिक तरीके से सरकार के सामने रखा जा रहा है और मांग की जा रही है कि उनकी लंबित मांगें सरकार पूरी करे। बताया जा रहा है कि दफ्तरों में मुलाजिम तो आए और जहां-तहां अपने कामकाज में लगे रहे लेकिन कुछ दफ्तरों में मुलाजिमों की इस हड़ताल की वजह से कामकाज प्रभावित रहा।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यहां पुलिस चालान काटने के बदले उठाया ये कदम, देखते रह गए लोग

उधमपुर में बिना हेलमेट के वाहन चलाने वालों के खिलाफ पुलिस की तरफ से विशेष तौर पर एक अभियान छेड़ा गया। इस बार अभियान में पुलिस ने चालान काटने के बजाए वाहन चालकों को निशुल्क हैलमेट देकर हमेशा हेलमेट पहनकर वाहन चलाने के लिए प्रेरित किया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls