प्रोजेक्टर लगाने का प्रोजेक्ट फाइलाें में उलझा

Udhampur Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
पौनी। स्थानीय राजकीय हायर सेकेंडरी स्कूल के छात्रों को कंप्यूटरीकृत मल्टीमीडिया प्रोजेक्टर के माध्यम से पढ़ाई दिए जाने के लिए बनाया गया प्लान खटाई में पड़ता हुआ नजर आ रहा है। स्कूल में इस प्रोजेक्ट को चलाने के लिए जो प्लान तैयार किया गया था वह जिला विकास आयुक्त कार्यालय के साथ ही मुख्य शिक्षा अधिकारी के कार्यालयों में पड़े हुए अन्य सरकारी कागजों के साथ धूल फांक रहा है। इस कारण मल्टीमीडिया प्रोजेक्टर के माध्यम से ग्रामीण बच्चों को मिलने वाली शिक्षा अधर में है।
स्कूल के विद्यार्थियों को स्मार्ट क्लास रूम में पढ़ाई करने के लिए मल्टीमीडिया प्रोजेक्टर की मदद मिल सके इस सुविधा को लगाने के लिए स्कूल के प्रिंसिपल जगदीश राज शर्मा ने स्थानीय विधायक बलदेव राज को अवगत कराया था। विधायक पांच महीने पहले स्कूल के दौरे पर आए थे। प्रिंसिपल द्वारा विधायक को इस प्रोजेक्ट के बारे में विस्तारपूर्वक बताते हुए इसके साथ होने वाले फायदों के बारे में भी बताया गया था। स्कूल प्रशासन द्वारा किए गए इस आग्रह के बाद विधायक ने इस प्रोजेक्टर को लगाए जाने की अनुमानित राशि बनाये जाने के निर्देश जारी किया था और इसमें लगने वाले धन को अपने निजी विधानसभा विकास प्राधिकरण से दिए जाने की घोषणा भी की थी। विधायक की गई इस घोषणा के बाद स्कूल के प्रिंसिपल ने प्रोजेक्टर लगाने हेतु लगभग 70 हजार रुपयों का खर्चा बताया। स्कूल प्रशासन ने पूरे कागजातों को तैयार करते हुए इसका ब्यौरा विधायक बलदेव राज शर्मा को सौंप दिया। विधायक ने भी अपने सीडीएफ से फंड जारी करने के लिए जिला प्रशासन को लिखा, लेकिन पिछले पांच महीनों से स्कूल में प्रोजेक्टर लगाने की फाइल मिनी सचिवालय के विभिन्न कार्यालयों के चक्कर काट रही है।
बताया जाता है कि अगर पौनी के राजकीय हायर सेकेंडरी में यह मल्टीमीडिया प्रोजेक्टर लग जाता तो जिले का यह पहला स्कूल होता जिसमें यह सुविधा विद्यार्थियों को मिल रही होती। प्रिंसिपल जगदीश राज शर्मा के मुताबिक, विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किए जाने के बाद उन्होंने इस बारे में मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन रजिस्ट्री से भी भेजा है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

यहां पुलिस चालान काटने के बदले उठाया ये कदम, देखते रह गए लोग

उधमपुर में बिना हेलमेट के वाहन चलाने वालों के खिलाफ पुलिस की तरफ से विशेष तौर पर एक अभियान छेड़ा गया। इस बार अभियान में पुलिस ने चालान काटने के बजाए वाहन चालकों को निशुल्क हैलमेट देकर हमेशा हेलमेट पहनकर वाहन चलाने के लिए प्रेरित किया।

22 जनवरी 2018