पर्यटन को बढ़ावा देने की मुहिम हुई तेज

Sri nagar Updated Wed, 25 Jul 2012 12:00 PM IST
श्रीनगर। घाटी में पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से श्रीनगर की खूबसूरत जगहों और ऐतिहासिक धरोहरों को बचाने के लिए राज्य पर्यटन विभाग ने काम करना शुरू कर दिया है। इसी के तहत मंगलवार को पर्यटन मंत्री रिगजिन जोरा ने शहर के विभिन्न जगहों में स्थानीय और गैर स्थानीय गतिविधि को बढ़ाने के लिए कई उद्घाटन किए। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ाने के लिए ऐतिहासिक धरोहरों को बचाने के अलावा नई गतिविधियों को शुरू करने की जरूरत है। इस मौके पर राज्य पर्यटन मंत्री नासिर असलम वानी भी उनके साथ मौजूद थे। उन्होंने चिनार बगीचे को जोड़ने के लिए पुल का उद्घाटन करने के अलावा जेहलम नदी के किनारे पीरज़ू के करीब एक काफी हाउस और जेहलम के किनारे एक एतिहासिक इमारत को कल्चरल सेंटर में बदल कर उसका उद्घाटन किया।
इस मौके पर पर्यटन मंत्री ने 45 लाख की लागत से बनने वाले पुल ले कर कहा कि इस से पर्यटकों को बगीचे में अंदर जाने में आसानी होगी। 35 लाख की मदद से पीर ज़ू में काफी हाउस के उद्घाटन पर उन्होंने कहा कि जेहलम के किनारे पर इस तरह के काफी हाउस की सख्त जरूरत थी। पर्यटन गतिविधि के निजीकरण पर जोर देते हुए कहा कि जब तक पर्यटन की गतिविधि का निजीकरण नहीं किया जाता तब तक पूरी तरह से पर्यटन को बढ़ाया नहीं जा सकता। इस दौरान शहर के हब्बाकदल क्षेत्र में इंटेक की मदद् से 1.50 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले लल देद मेमोरियल कल्चरल सेंटर फार आर्ट एंड कल्चरल हेरिटेज का उद्घाटन किया गया। कल्चरल हेरिटेज की यह इमारत इंटेक की मदद् से एतिहासिक डिजाइन की तरज़ पर बनाई गई। इस ऐतिहासिक इमारत में घाटी के कल्चर और हेरिटेज को दर्शाया गया है। यहां कश्मीर की तिलादुजी कालीन, जामावार , नमदह, पेपर माशी, कशमीर का लकडी और मेटल का काम, घटी की एतिहासिक नक्शेे को भी दिखाया गया है। इस दौरान पर पर्यटन मंत्री ने कहा कि विभाग ऐसी धरोहरों की बागडोर भी इंटेक को ही देना चाहती है। उन्होंने कहा कि विभाग के कर्मचारियों के हाथ में ऐसी धरोहरों की बागडोर नहीं दी जा सकती। इस दौरान इंटेक के कनवीनर सलीम बेग ने कहा कि धरोहरों को फिर से बचाने के लिए जानकारों की जरूरत है।


ताकि एक बार फिर से इन एतिहासिक धरोहरों की हालत खसता ना हो जाए।

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: LoC से वापस आई पुंछ - रावलकोट के बीच चलने वाली बस

पुछ को पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू और कश्मीर के रावलकोट से जोड़ने वाली बस को एक बार फिर रोक दिया गया। ये बस सोमवार को पुंछ से रावलकोट जाने के लिए चली, लेकिन एलओसी पर पाकिस्तान द्वारा की जा रही क्रास बार्डर फायरिंग के मद्देनजर इसे वापस भेज दिया गया।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper