एनआरएचएम डॉक्टरों ने दी इस्तीफे की चेतावनी

Rajouri Updated Tue, 21 Jan 2014 05:50 AM IST
राजोरी। चार-पांच महीनों से वेतन और एक साल से इन्सेंटिव नहीं मिलने से नाराज एनआरएचएम के तहत तैनात डॉक्टर अब लामबंद होने लगे हैं। यहां तक कि डॉक्टरों ने इस्तीफे की चेतावनी तक दे दी है। जिले के दरहाल चिकित्सा ब्लाक में कार्य कर रहे डॉक्टरों ने साफ कहा कि यदि दो दिनों में उन्हें बकाया वेतन और इन्सेंटिव नहीं मिला तो नौकरी से त्यागपत्र दे देंगे। दरहाल ब्लाक के शाहदरा शरीफ क्षेत्र में तैनात डॉ. राहिला चौधरी ने बताया कि वह घर से करीब 40 किलोमीटर दूर नौकरी कर रही हैं। हर रोज वापस घर नहीं जा सकती। किराए के मकान में रहती हैं। विभाग द्वारा ठहरने के लिए न सरकारी भवन प्रदान किया गया है और न ही इन्सेंटिव दिया जा रहा है। चार महीनों से वेतन भी नहीं दिया गया है। वहीं डॉ. साइमा जबीन ने बताया कि कुछ समय पहले एनआरएचएम के निदेशक ने क्षेत्र का दौरा कर सीएमओ को निर्देश जारी किए थे कि यहां रहने वाले डॉक्टरों को रात को ठहरने के लिए सरकारी भवन प्रदान किए जाएं। डॉ. फरखंदा ने बताया कि यदि वेतन और इन्सेंटिव नहीं दिया जाएगा तो गुजर-बसर मुश्किल है।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

आतंकियों ने जलाया था इस लड़के का घर, कड़ी मेहनत कर बना केएएस टॉपर

हीरा हमेशा कोयले की खान से ही निकलता है। इस बात को एक बार फिर सच कर दिखाया है जम्मू और कश्मीर के अंजुम बशीर खान ने।

27 दिसंबर 2017