राहें मिलन से आर-पार हुए 32 भारत-पाक नागरिक

Punch Updated Tue, 02 Oct 2012 12:00 PM IST
पुंछ। सोमवार को एक बार फिर जिले में भारत - पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर बनाई गई चक्कां दा बाग की राहें मिलन अपने निर्धारित समय से एक हफते के बाद खोली गई, जिससे अपनों से मिलकर अथवा अपनों से मिलने के लिए 32 भारत - पाक नागरिक आर पार हुए।
नगर स्थित स्पोर्ट्स स्टेडियम में जहां से पुंछ रावलाकोट बस चलती है। वहां पर अपनों को विदाई देते जुदा होने के गम में एवं अपनों से बरसों के बाद मिलने की खुशी में लोगों की आंखों से आंसू छलक पड़े। आज एक हफ्ते के बाद भारत - पाकिस्तान के बीच बरसों से बिछुड़े परिवारों को आपस में मिलाने के लिए पुंछ चक्कां दा बाग की राहें मिलन दोपहर बाद 2.10 बजे खोली गई। जहां सर्वप्रथम पुंछ रावलाकोट अथॉरिटी के अधिकारी मोहम्मद अब्दुल हमीद चौधरी ने अपने समक्ष पाक अधिकारी अरशद महमूद से हाथ मिलाया, इसके उपरांत राहें मिलन से 32 भारत एवं पाक नागरिक नियंत्रण रेखा के आर पार हुए, जिनमें भारत की तरफ से पुंछ रावलाकोट बस में सवार होकर 10 लोग चक्कां दा बाग तक गए, जिनमें सभी 10 पाकिस्तानी नागरिक भारत में अपने रिश्तेदारों के पास एक माह बिताने के बाद नियंत्रण रेखा पार कर अपने वतन पहुंचे। वहीं पाकिस्तान की तरफ से रावलाकोट पुंछ बस में सवार होकर 22 लोग नियंत्रण रेखा पार कर भारतीय क्षेत्र में पहुंचे, जिनमें 10 पाक नागरिक पहली बार अपने बिछुड़े रिश्तेदाराें से मिलने आए। जबकि 12 भारतीय नागरिक एक माह बाद अपने रिश्तेदारों से मिलने के बाद वतन लौटे। इससे पहले सुबह 10 बजे से स्पोर्ट्स स्टेडियम में जहां से पुंछ रावलाकोट बस चलती है वहां मार्मिक दृश्य देखने को मिला। अपने पाकिस्तानी रिश्तेदारों को सुबह विदा करने के लिए सैकड़ाें लोग एकत्र हुए जहां पर उन्होंने नम आंखों से गले मिलते हुए अपनों को विदाई दी। पाक प्रशासन की परमिट जारी न करने के चलते नए भारतीय नागरिकों को पीओके में अपने रिश्तेदारों के पास जाने का मौका नहीं मिला।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: LoC से वापस आई पुंछ - रावलकोट के बीच चलने वाली बस

पुछ को पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू और कश्मीर के रावलकोट से जोड़ने वाली बस को एक बार फिर रोक दिया गया। ये बस सोमवार को पुंछ से रावलकोट जाने के लिए चली, लेकिन एलओसी पर पाकिस्तान द्वारा की जा रही क्रास बार्डर फायरिंग के मद्देनजर इसे वापस भेज दिया गया।

17 जनवरी 2018