ईंट के दाम अलग-अलग क्यों?

Kathua Updated Tue, 25 Dec 2012 05:30 AM IST
कठुआ। ईंट के दाम बढ़ाए जाने को लेकर ईंट भट्ठा यूनियन के सदस्य चौ. सुल्तान अली ने सोमवार को एक बैठक की। इस दौरान ईंट भट्ठा यूनियन की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा करने के साथ कालाबाजारी के आरोपों का जवाब देते हुए उन्होंने कड़े तेवर अपनाए। यूनियन सदस्य ने कहा कि दोनों संभागों में विधायकों की सैलरी बराबर है तो फिर ईंट के दाम अलग-अलग क्यूं किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को ईंट भट्ठे वालों की परेशानियों को मद्देनजर रखते हुए जल्द से जल्द दाम बढ़ाने पर कोई फैसला लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि कुछ लोग आंदोलन की आड़ में एक ओर यूनियन सदस्यों को ब्लैकमेल करने पर उतारू हैं तो दूसरी ओर जनता के भरोसे का भी गलत फायदा उठाकर राजनीतिक रूप दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में कई तरह के शुल्क चुकाए जाने के बाद भी उन्हें सहायता नहीं दी जाती। न ही यह निर्धारित किया गया है कि ईंट बनाने के लिए प्रयोग में लाई जाने वाली ईंट कहां से ली जाए। उन्होंने कहा कि पंजाब में किन्हीं कारणों से ईंट बनाने का काम रुका हुआ है अगर सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई तो राज्य में ईंट व्यापारियों के लिए ईंट बेचना भी मुश्किल हो जाएगा। इस अवसर पर सरदारी लाल शर्मा, मोहन सिंह, रवि शर्मा, केसी महाजन, सुभाष चंद्र देव राज आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

भारतीय डाक में निकलीं 2,411 नौकरियां, ऐसे करें अप्लाई

करियर प्लस के इस बुलेटिन में हम आपको देंगे जानकारी लेटेस्ट सरकारी नौकरियों की, करेंट अफेयर्स के बारे में जिनके बारे में आपसे सरकारी नौकरियों की परीक्षाओं या इंटरव्यू में सवाल पूछे जा सकते हैं और साथ ही आपको जानकारी देंगे एक खास शख्सियत के बारे में।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls