रामकोट में खोला जाए डिग्री कॉलेज

Kathua Updated Sat, 10 Nov 2012 12:00 PM IST
बिलावर। रामकोट के लोगों ने सरकार से नगर में डिग्री कॉलेज खोलने और रामकोट को तहसील का दर्जा देने और युवाओं को तकनीकी प्रशिक्षण देने के लिए वहां एक आईटीआई खोलने की मांग की है। रामचंद, परसराम, मूंशीराम, प्रभात सिंह, चैन सिंह आदि ने बताया कि रामकोट एक एतिहासिक नगर है, जो कभी डुग्गर प्रदेश की एक प्रसिद्घ रियासत हुआ करता था। आज उसे तहसील और कॉलज के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है। लोगों ने सरक ार से मांग करते हुए कहा कि इस क्षेत्र की तरक्की और खुशहाली के लिए फौरन रामकोट को तहसील का दर्जा दिया जाए। इसकेअलावा यहां एक डिग्री कॉलेज और आईटीआई भी खोला जाए, जिससे स्थानीय युवाओं को शैक्षणिक और तकनीकी शिक्षा के लिए बाहर न जाना पडे़। इन लोगों ने बताया कि इस समय रामकोट व आसपास के बच्चों को कालेज की पढ़ाई के लिए हर रोज अस्सी किलोमीटर के करीब सफर करके बिलावर जाना पड़ता है। इसी तरह तहसीलदार व अन्य दफ्तरों से संबंधित काम करवाने के लिए भी इलाके के लोगों को बिलावर जाना पड़ता है।
तहसील मुख्यालय आने-जाने पर ही सैकड़ों रुपये खर्च हो जाते हैं। यदि रामकोट में डिग्री कॉलेज और तहसील बन जाए, तो इलाके की एक बहुत बड़ी परेशानी दूर हो जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

दावोस में 'क्रिस्टल अवॉर्ड' मिलने के बाद सुपरस्टार शाहरुख खान ने रखी 'तीन तलाक' पर अपनी राय

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls