नंद के आनंद भयो, जै कन्हैया लाल की...

Kathua Updated Sat, 11 Aug 2012 12:00 PM IST
d अमर उजाला ब्यूरो
कठुआ। श्री कृष्ण जन्मोत्सव को शहर समेत आसपास और दूरदराज इलाकों में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। पिछले दो दिन से शिक्षा संस्थानों से लेकर मंदिर समितियों द्वारा शुरू किए गए जन्माष्टमी पर्व के उत्सव की रौनक शुक्रवार को परवान चढ़ गई। मंदिरों में सुबह से ही श्रद्धालुओं का तांता लगना शुरू हो गया। सजावट से चकाचौंध मंदिरों में अलग ही नजारा रहा। दिन के समय संकीर्तन और भक्ति संगीत से शहर श्री कृष्ण की लीलाओं के गुणगान से गुंजित होता रहा वहीं शाम के बाद मंदिरों में रौनक बढ़ती गई। श्री कृष्ण जन्मोत्सव की घड़ी को लेकर दिन भर बेसब्र रहे भक्तों का उत्साह और भक्तिभाव रात ढलने के साथ बढ़ते गए। शहर व सटे इलाकों में स्थित मंदिरों में श्री कृष्ण की झांकियां निकलीं। श्रद्धालुओं के जयघोष हुए और मंदिर परिसरों में श्रद्धालुओं का आना जाना लगा रहा।शहर के गर्ल्स हायर सेकेंडरी चौक के निकट स्थित राधा कृष्ण मंदिर, कृष्णानगर स्थित महाकालेश्वर शिव दुर्गा मंदिर, पारलीवंड वार्ड दस स्थित मंदिर समेत कई मंदिराें में श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर सजी रौनक श्रद्धा भाव से ओतप्रोत रही। वहीं बेड़ियां पत्तन से गुजरने वाली नहर में नन्हें कन्हैया को सिर पर रखी टोकरी से उठाए वासुदेव का दृश्य मंचित किया गया। ब्रहमकुमारी आश्रम में आकर्षक झांकियों ने सबका मन मोहा। बीती रात को जहां आश्रम में विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया वहीं जन्माष्टमी के उपलक्ष्य पर भी दिनभर भक्तिभाव झलकता रहा।
उधर जन्माष्टमी पर्व पर व्रत रखने वालों की संख्या भी खासी अधिक रही। मंदिर परिसरों से लेकर आयोजन स्थलों पर व्रतियों के लिए फलाहार के रूप में प्रसाद वितरित किया गया। आधी रात को श्री कृष्ण जन्मोत्सव को धूमधाम से मनाने के लिए आतिशबाजी के इंतजाम भी किए गए।

झांकियों की रही धूम
कठुआ/बिलावर (ब्यूरो)। शहर से सटे गोविंदसर गांव में जन्माष्टमी पर्व पर भव्य शोभा यात्रा का आयोजन किया गया। नृसिंह मंदिर से निकली शोभा यात्रा गांव के अलग अलग स्थानों से होकर गुजरी। हर कोई शोभा यात्रा को देख उत्साहित हो गया। महंत श्री भगवान दास की अध्यक्षता में आयोजित शोभा यात्रा के उपरांत मंदिर में संकीर्तन किया गया।
उधर बिलावर में भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव पर बिलावर में शंकर रामलीला क्लब के सदस्यों ने अपने अध्यक्ष सुभाष चौधरी के नेतृत्व में शोभा यात्रा निकाली। उधर, फिंतर रामलीला क्लब के सदस्यों ने भी श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं पर आधारित आकर्षक झांकियां निकालीं। झांकियों पर आधारित यह शोभा यात्रा फिंतर से शुरू हुई और धर्मकोट, सुराडा, देबल और बिलावर का चक्कर काटने के बाद फिंतर में आकर संपन्न हो गई।
दूसरी और श्रीनृसिंह गोशाला मांडली द्वारा भी गौशाला में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार मनाया गया और शोभा यात्रा निकाली गई। शुक्रवार को तहसील के मंदिरों में सुबह से ही भगवान दर्शन के लिए लंबी कतारें लगी रहीं। नगर के प्राचीन शिव मंदिर में भी भक्तों ने माथा टेका। सुकराला माता के मंदिर में भी खूब भीड़ रही।


रात में की गई आतिशबाजी
हीरानगर। कसबे के राधा कृष्ण मंदिर सहित मुख्य बाजार के सत्य नारायण मंदिर और शांत निकेत आश्रम में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। रात 12 बजे भगवान श्री कृष्ण के जन्म के समय मंदिरों में खूब आतिशबाजी की गई। श्रद्धालु खुशी से झूमने लगे। वहीं घगवाल के ऐतिहासिक नृसिंह मंदिर धाम में शुक्रवार को हजारों भक्त घंटों कतार में लग कर नृसिंह भगवान के दर्शन किए। मंदिर परिसर में मेले का भी आयोजन किया गया।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

बॉर्डर पर तनाव का पंजाब में दिखा असर, लोगों में दहशत, BSF ने बढ़ाई गश्त

बॉर्डर पर भारत और पाकिस्तान में हो रही गोलीबारी का असर पंजाब में देखने को मिल रहा है, जहां लोगों में दहशत फैली हुई है। बीएसएफ ने भी गश्त बढ़ा दी है।

21 जनवरी 2018

Related Videos

कुएं में गिरे कुत्ते की सूझबूझ से बच्ची जान, लोग देखकर हो गए हैरान

सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक कुत्ता कुएं में गिरा हुआ है, लेकिन फिर भी उसकी जान बच गई..देखते हैं कैसे...

21 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper