लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Yashwant Sinha urges Droupadi Murmu to affirm she won't be rubber stamp Rashtrapati

Presidential Election: यशवंत सिन्हा ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- मुर्मू प्रतिज्ञा करें कि वह नहीं बनेंगी 'रबर स्टाम्प राष्ट्रपति'

न्यूज डेस्क अमर उजाला, बैंगलुरु Published by: शिव शरण शुक्ला Updated Sun, 03 Jul 2022 04:36 PM IST
सार

 कांग्रेस विधायक दल को संबोधित करते हुए सिन्हा ने केंद्र सरकार पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार  राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ ईडी, सीबीआई, आयकर जैसी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।
 

द्रोपदी मुर्मू-यशवंत सिन्हा
द्रोपदी मुर्मू-यशवंत सिन्हा - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

विस्तार

राष्ट्रपति पद के लिए विपक्षी दलों के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने रविवार को कर्नाटक में कांग्रेस विधायक दल को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी और राजग उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू से कहा है कि वे इस बात की पुष्टि करें कि अगर वे निर्वाचित हुईं तो 'रबर स्टैंप' साबित नहीं होंगी। उन्होंने न्यायपालिका पर लगाए जा रहे आरोपों को लेकर चिंता भी जताई।


 
पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए बैंगलोर पहुंचे थे। उनके अलावा इस बैठक में राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया, राज्य पार्टी प्रमुख डी के शिवकुमार और पार्टी के कई नेता और विधायक शामिल हुए। कांग्रेस विधायक दल को संबोधित करते हुए सिन्हा ने केंद्र सरकार पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा नीत केंद्र सरकार राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ ईडी, सीबीआई, आयकर जैसी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।




भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ अदालत द्वारा की गई कुछ टिप्पणियों के बाद न्यायपालिका के खिलाफ लगाए जा रहे आरोपं पर भी उन्होंने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि यह हमारे लोकतंत्र में एक बहुत ही दुखद घटना है। यशवंत सिन्हा ने आगे कहा कि हम सभी न्यायपालिका का सम्मान करते हैं और हम यह नहीं कह सकते कि हम न्यायपालिका के एक आदेश से सहमत हैं, लेकिन दूसरे आदेश को स्वीकार नहीं करते हैं। 

इस दौरान राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशंवत सिन्हा ने बताया कि इस यात्रा के दौरान जद (एस) के संरक्षक और पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा से मुलाकात नहीं करेंगे। गौरतलब है कि जद (एस) ने 18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में अपने प्रतिद्वंद्वी मुर्मू को समर्थन देने के संकेत दिए हैं। राजनीतिक विरोधियों को ठीक करने के लिए केंद्र सरकार पर ईडी, सीबीआई, आयकर जैसी एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा यह अब एक आम बात हो गई है, विपक्षी दलों में से कोई भी, जो अपना सिर उठाने की कोशिश करता है या कोई मुद्दा उठाता है, उसे तुरंत इन एजेंसियों में से एक द्वारा नोटिस जारी किया जाता है। 

इस दौरान राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के साझा उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने कहा कि 'मैंने प्रतिज्ञा की है कि, यदि निर्वाचित हुआ, तो मैं संविधान और केवल संविधान के प्रति जवाबदेह रहूंगा। जब भी कार्यपालिका या अन्य संस्थाएं संवैधानिक नियंत्रणों और संतुलनों को तोड़ती हैं, तो मैं बिना किसी भय या पक्षपात के, ईमानदारी से अपने अधिकार का प्रयोग करूंगा।' उन्होंने कहा कि भारत को एक ऐसे राष्ट्रपति की जरूरत है जो संविधान के निष्पक्ष संरक्षक के रूप में कार्य करे, न कि मूक या रबर स्टैंप राष्ट्रपति की तरह। उन्होंने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू से भी ऐसी ही प्रतिज्ञा करने का आग्रह किया। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00