लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   There was a knock on the door at 2 am Assam child bride recounts crackdown

Assam: 'रात दो बजे दरवाजे पर दस्तक हुई और मेरे पति को उठा ले गए', असम की बालिका वधू ने बयां किया अपना दर्द

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मोरीगांव Published by: संजीव कुमार झा Updated Sun, 05 Feb 2023 11:22 AM IST
सार

बाल विवाह मामले में असम पुलिस ने धड़पकड़ की कार्रवाई तेज कर दी है। प्रशासन के इस एक्शन के बीच कुछ परिवार का दर्द भी सामने आया है। निमी जो कि डेढ़ महीने पहले मां बनी थी उसने बताया कि उसके गांव में भय और असुरक्षा  का माहौल है।

असम पुलिस
असम पुलिस - फोटो : Social Media

विस्तार

असम की हिमंत बिस्वा सरकार ने 14 साल से कम उम्र में शादी करने पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। ऐसे में अब असम पुलिस ने धड़पकड़ की कार्रवाई तेज कर दी है। प्रशासन के इस एक्शन के बीच कुछ परिवार का दर्द भी सामने आया है। निमी जो कि डेढ़ महीने पहले मां बनी थी उसने बताया कि उसके गांव में भय और असुरक्षा  का माहौल है।



निमी के पति को उठा ले गए
निमी अपने डेढ़ महीने के बेटे को लेकर समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए कहा कि गुरुवार को रात करीब दो बजे दरवाजे पर दस्तक हुई। हमने दरवाजा खोला और पुलिसकर्मियों को बाहर पाया। वे मेरे पति को ले गए। मेरा पति गिड़गिड़ाता रहा लेकिन पुलिस उसे पकड़कर ले गई। मैंने भी कई बार मिन्नतें कीं लेकिन मेरी नहीं सुनी गई। अब मैं क्या करूं। मेरे परिवार का क्या होगा?


निमी 17 वर्षीय लड़की है जो भागकर गोपाल बिस्वास नाम  के शख्स के साथ शादी कर ली थी, जो अपने पति के साथ गांव के चौराहे पर पकौड़े औ सेवई बेचकर अपने परिवार का गुजारा कर रही थीं। गोपाल के बड़े भाई युधिष्ठर ने कहा कि हम मुश्किल से अपने परिवार का भरण-पोषण कर पाते हैं। निमी और उसके बेटे की देखभाल कौन करेगा? अपने वृद्ध माता-पिता के साथ परिसर। 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

;