लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Sameer Wankhede Nawab Malik Ramdas Athwale NCP Dug case Aryan Khan news in Hindi

समीर वानखेड़े: नवाब मलिक ने कही सीएम से मिलने की बात, अठावले बोले- एनसीबी अफसर पिछड़ी जाति से इसीलिए बने निशाना

आरोप-प्रत्यारोप: आठवले ने खारिज किए समीप वानखेड़े पर लगे आरोप, नवाब मलिक ने कही ये बात Published by: गौरव पाण्डेय Updated Sun, 24 Oct 2021 06:34 PM IST
सार

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के जोनल निदेशक समीर वानखेड़े का नाम इस समय चर्चा में है। आर्यन खान मामले की जांच कर रहे वानखेड़े और एनसीबी पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं, केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने वानखेड़े के खिलाफ लगे आरोपों को खारिज करते हुए मलिक पर निशाना साधा है। 

केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले
केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले - फोटो : facebook.com/ramdasathawale
ख़बर सुनें

विस्तार

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने रविवार को महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक द्वारा एनसीबी के जोनल अधिकारी समीर वानखेड़े के खिलाफ लगाए गए आरोपों को निराधार और पूरी तरह से गलत करार दिया। अठावले ने वानखेड़े का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वानखेड़े को कोई नुकसान न पहुंचे और उनकी जान को कोई खतरा न हो।



एनसीपी नेता नवाब मलिक पिछले कुछ दिनों से लगातार एनसीबी और वानखेड़े पर हमला बोलते रहे हैं। वानखेड़े, मुंबई तट पर एक क्रूज पर हुई छापेमारी की अगुवाई कर रहे थे। इस छापेमारी में क्रूज से नशीले पदार्थ बरामद किए गए थे और लोकप्रिय बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया था। अठावले ने दावा किया कि इस मामले में एनसीबी के पास आर्यन खान के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। 


अठावले ने कहा कि वानखेड़े को इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि वह पिछड़ी जाति से हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नवाब मलिक इस मामले को धार्मिक और जातिवादी रंग देने की कोशिश कर रहे हैं। नवाब मलिक के दामाद समीर खान को भी एनसीबी ने इस साल 13 जनवरी को नशीले पदार्थ रखने के आरोप में गिरफ्तार किया था। उन्हें सितंबर में जमानत मिली थी। 

वहीं, नवाब मलिक आज औरंगाबाद में थे। यहां उन्होंने वानखेड़े के खिलाफ अपने आरोपों को लेकर कहा कि हम मुख्यमंत्री और गृह मंत्री से मुलाकात करेंगे। इसकी एसआईटी (विशेष जांच टीम) के जरिए जांच की जाएगी। शहर में एक साल से संगठित अपराध को अंजाम दिया जा रहा था, इसके जरिए करोड़ों रुपये जमा किए गए। इससे पहले मलिक ने कहा था कि वानखेड़े के खिलाफ सबूत सामने आ जाएंगे तो वह सरकारी नौकरी में टिक नहीं पाएंगे।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00