लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Russia Ukraine War: India expresses concern over shelling near Ukraine's Zaporizhzhia NPP

Russia Ukraine War: जैपोरिझ्झिया न्यूक्लियर प्लांट के पास जंग से भारत चिंतित, कहा- बैठकर सुलझाएं विवाद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: प्रांजुल श्रीवास्तव Updated Fri, 12 Aug 2022 08:36 AM IST
सार

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज ने कहा, भारत यूक्रेन की स्थिति पर चिंतित है। संघर्ष की शुरुआत के बाद से, भारत ने लगातार हिंसा को समाप्त करने की अपील की है।

यूएन में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज
यूएन में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज - फोटो : ANI
ख़बर सुनें

विस्तार

रूस-यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग से पूरी दुनिया परेशान है। विश्व पर खाद्य संकट का खतरा मंडरा रहा है, इस बीच दोनों देशों के मध्य जैपोरिझ्झिया न्यूक्लियर पावर प्लांट पर हो रही गोलीबारी ने परमाणु आपदा का भी खतरा पैदा कर दिया है। इस पर भारत ने चिंता व्यक्त की है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज ने कहा, भारत यूक्रेन की स्थिति पर चिंतित है। संघर्ष की शुरुआत के बाद से, भारत ने लगातार हिंसा को समाप्त करने की अपील की है। उन्होंने कहा, हम संघर्ष को समाप्त करने के सभी राजनयिक प्रयासों का समर्थन करते हैं। 



रुचिरा कंबोज ने कहा, भारत, यूक्रेन के जैपोरिझ्झिया न्यूक्लियर पावर प्लांट के पास हो रही गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है। उन्होंने कहा, न्यूक्लियर पावर प्लांट के पास कोई भी घटना सार्वजनिक स्वास्थ्य और पर्यावरण के लिए गंभीर बन सकती है। इस दौरान कंबोज ने यूक्रेन से अनाज के निर्यात को खोलने के लिए महासचिव सतर की पहल का भी स्वागत किया। उन्होंने कहा, इन प्रयासों से पता चलता है कि मतभेदों को बातचीत से सुलझाया जा सकता है। 


न्यूक्लियर पावर प्लांट तबाह होने की खबर
दरअसल, जैपोरिझ्झिया न्यूक्लियर पावर प्लांट के बुरी तरह तबाह होने की खबरें सामने आई हैं। सैटेलाइट तस्वीरों के हवाले से दावा किया गया है कि रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के दौरान ही इस प्लांट के पास भी जबरदस्त हमले हुए हैं। इससे संयंत्र का एक हिस्सा तबाह हुआ है। रूस और यूक्रेन दोनों ने ही इन हमलों के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराया है। 


छह रिएक्टरों पर हुई गोलीबारी
यूक्रेन के परमाणु एजेंसी एनर्गोआटोम (Energoatom) ने कहा कि रूस की तरफ से हाल ही में प्लांट के छह रिएक्टरों के करीब गोलाबारी हुई। इससे पूरे संयंत्र में जबरदस्त धुआं छा गया और कुछ रेडिएशन सेंसर्स को भी नुकसान हुआ है। फिलहाल यूक्रेन का यह संयंत्र रूस के कब्जे में है और यूक्रेन इसे वापस पाने के लिए जबरदस्त कोशिश कर रहा है। यूक्रेन का आरोप है कि मॉस्को इस प्लांट में अपने सैकड़ों सैनिकों और हथियारों को स्टोर करने का काम कर रहा है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00