लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Prophet Remark Row: NIA looking for IS angle in Umesh Kolhe murder case

Prophet Remark Row: उमेश कोल्हे हत्याकांड में आईएस एंगल तलाश रही एनआईए, जानें अब तक क्या-क्या हुआ?

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुम्बई Published by: शिव शरण शुक्ला Updated Thu, 07 Jul 2022 10:13 PM IST
सार

इससे पहले बुधवार को एनआईए ने अमरावती में फार्मासिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के सिलसिले में महाराष्ट्र के कई स्थानों पर छापेमारी की। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पिछले हफ्ते 21 जून को अमरावती जिले में उमेश कोल्हे की हत्या का मामला एनआईए को सौंपा था।

अमरावती हत्याकांड का मुख्य आरोपी इमरान (बाएं) और मृतक उमेश कोल्हे।
अमरावती हत्याकांड का मुख्य आरोपी इमरान (बाएं) और मृतक उमेश कोल्हे। - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

महाराष्ट्र के अमरावती में बीते दिनों हुई कैमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के पीछे एनआइए ने आईएस से प्रेरित गिरोह का हाथ होने की आशंका जताई है। गुरुवार को एक अधिकारी ने संभावना जताते हुए कहा कि जिस बर्बरता के साथ उमेश कोल्हे का गला रेता गया है, उसे देखते हुए प्रथम द्रष्टया यही लगता है कि हत्या आईएस की तर्ज पर की गई है। उन्होंने बताया कि इस एंगल को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है कि आरोपियों का आईएस या किसी अन्य आतंकी संगठन से कोई संपर्क तो नहीं है। 



सात आरोपी एनआइए की रिमांड पर 
उमेश कोल्हे हत्याकांड में गिरफ्तार किए गए सात आरोपियों को विशेष अदालत ने 15 जुलाई तक के लिए एनआइए की रिमांड पर भेज दिया है। आरोपियों को गुरुवार सुबह अमरावती से मुंबई लाया गया था। यहां सातों को एनआइए मामलों के विशेष जज एके लाहोटी के सामने पेश किया गया। सुनवाई के दौरान एजेंसी ने कहा कि इस बात के साक्ष्य हैं कि आरोपी आतंकी गतिविधियों में शामिल थे। जिसके बाद एनआइए ने 15 दिनों के लिए आरोपियों की रिमांड की मांग की। एनआइए की मांग पर अदालत ने 15 जुलाई तक के लिए उन्हें रिमांड पर भेज दिया। 


बुधवार को एनआईए ने मारे थे छापे
गौरतलब है कि इससे पहले बुधवार को एनआईए ने अमरावती में फार्मासिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के सिलसिले में महाराष्ट्र के कई स्थानों पर छापेमारी की। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पिछले हफ्ते 21 जून को अमरावती जिले में उमेश कोल्हे की हत्या का मामला एनआईए को सौंपा था। एनआईए के एक प्रवक्ता ने बताया कि एजेंसी ने बुधवार को महाराष्ट्र में 13 स्थानों पर छापेमारी की।

आपत्तिजनक दस्तावेज हुए बरामद
एजेंसी के मुताबिक, आरोपियों और संदिग्धों के परिसरों की तलाशी के दौरान मोबाइल फोन, सिम कार्ड, मेमोरी कार्ड, डीवीआर जैसे डिजिटल उपकरण, चाकू और पैम्फलेट के अलावा नफरत भरे संदेश और अन्य आपत्तिजनक दस्तावेज और सामग्री जब्त की गई। प्रवक्ता ने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

दरअसल, भाजपा की बर्खास्त प्रवक्ता नूपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी का समर्थन करने के लिए कोल्हे की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। मामला शुरू में 22 जून को अमरावती के थाना शहर कोतवाली में दर्ज किया गया था। एनआईए ने दो जुलाई को फिर से मामला दर्ज कर जांच अपने हाथ में ले ली थी।

पीएफआई नेता से पुलिस ने की पूछताछ
पुलिस ने फार्मासिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के सिलसिले में बुधवार को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के एक स्थानीय नेता से यहां पूछताछ की गई थी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पीएफआई के अमरावती जिला प्रमुख सोहैल नदवी को नागपुरी गेट थाने लाया गया और पूछताछ की गई तथा बाद में उसे जाने दिया गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00