लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Navratri: Uddhav Thackeray wife Rashmi Thackeray visits Thane event associated with CM Shinde

Navratri: सीएम शिंदे से जुड़े नवरात्रि उत्सव में पहुंची रश्मि ठाकरे, उद्धव गुट के कई नेता रहे मौजूद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई Published by: शिव शरण शुक्ला Updated Thu, 29 Sep 2022 09:43 PM IST
सार

तेम्बी नाका शिंदे गुट का गढ़ माना जाता है। तेम्बी नाका में इन समारोहों की शुरुआत ठाणे के दिवंगत पार्टी नेता आनंद दिघे ने की थी। बाद में यहां इन उत्सवों की कमान अब शिंदे गुट ने संभाल ली है।

रश्मि ठाकरे और उद्धव ठाकरे
रश्मि ठाकरे और उद्धव ठाकरे - फोटो : ANI
ख़बर सुनें

विस्तार

महाराष्ट्र में जहां शिवसेना को लेकर उद्धव और एकनाथ शिंदे के बीच में लड़ाई जारी है, वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे एकनाथ शिंदे से जुड़े एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं। वे गुरुवार को ठाणे शहर में थी। यहां उन्होंने गुरुवार को  पहले पार्टी के ठाणे मुख्यालय 'आनंद आश्रम' का दौरा किया और दिवंगत आनंद दीघे को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद वे ठाणे शहर के तेम्बी नाका में एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं और मां दुर्गा की पूजा अर्चना की। 



गौरतलब है कि तेम्बी नाका शिंदे गुट का गढ़ माना जाता है। तेम्बी नाका में इन समारोहों की शुरुआत ठाणे के दिवंगत पार्टी नेता आनंद दिघे ने की थी। बाद में यहां इन उत्सवों की कमान अब शिंदे गुट ने संभाल ली है। सीएम एकनाथ शिंदे खुद सोमवार को नवरात्रि के पहले दिन यहां पहुंचे थे। बता दें कि आनंद दिघे इस क्षेत्र के बेहद लोकप्रिय नेता हैं। उन्हें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का गुरु माना जाता है।


गौरतलब है कि जिस समय पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे नवरात्रोत्सव मंडल पहुंची थी तो वहां ठाणे के लोकसभा सांसद राजन विचारे, राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी के साथ-साथ उद्धव ठाकरे गुट के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे। इनमें से ज्यादातर महिलाएं थीं। हालांकि उन्होंने वहां ना तो मीडिया से कोई बात की और ना ही कोई बयान दिया। 

अशोक चव्हाण के दावे पर शिंदे गुट के विधायक ने किया पलटवार
महाराष्ट्र में शिवसेना पर अपने हक को लेकर उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे गुट के बीच चल रहे विवाद के बीच महाराष्ट्र के मंत्री अब्दुल सत्तार ने गुरुवार को बड़ा दावा किया है। उन्होंने कहा कि जब वह पहले कांग्रेस में थे तो पार्टी नेता अशोक चव्हाण ने एकनाथ शिंदे से मुलाकात कर राज्य में शिवसेना के साथ गठबंधन करने का प्रस्ताव रखा था। उनका यह प्रतिक्रिया कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण के उस बयान के बाद सामने आई है जिसमें उन्होंने कहा था कि एकनाथ शिंदे भाजपा के साथ संबंध तोड़ने और शिवसेना-कांग्रेस गठबंधन सरकार बनाने के प्रस्ताव लेकर उनके पास आए थे। जिसके बाद पूर्व सीएम ने उन्हें राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार से परामर्श करने के लिए कहा था। 

चव्हाण के दावे पर शिंदे गुट के विधायक सत्तार ने कहा कि वह वास्तव में चव्हाण थे और उन्होंने खुद शिंदे से सरकार गठन के लिए शिवसेना-कांग्रेस गठबंधन बनाने के प्रस्ताव के साथ संपर्क किया था। उन्होंने कहा था कि जब मैं कांग्रेस में था, अशोक चव्हाण और मैंने शिंदे से सरकार बनाने का अनुरोध किया था। एकनाथ शिंदे उस समय भारतीय जनता पार्टी के देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री थे और चव्हाण महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष थे।

 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00