लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Maharashtra Political Crisis: Shiv Sena Leader Gulabrao Patil Claimed 12 MPs to Leave Uddhav Thackeray Party

महाराष्ट्र की सियासत : उद्धव का साथ छोड़ने की तैयारी में अब 12 सांसद, शिवसेना के पूर्व मंत्री गुलाब राव पाटिल ने किया दावा

अमर उजाला ब्यूरो, मुंबई। Published by: योगेश साहू Updated Thu, 07 Jul 2022 06:06 AM IST
सार

महाराष्ट्र की सियासत में एक बार फिर उबाल आ सकता है। क्योंकि पाटिल ने दावा करते हुए कहा है कि शिंदे गुट ही असली शिवसेना है और शिंदे गुट शिवसेना के सम्मान को फिर से बहाल करेगा। ऐसे में देखना होगा कि नए सियासी समीकरण में कौन किस पाले में जाता है।

gulab rao patil
gulab rao patil - फोटो : gulab rao patil
ख़बर सुनें

विस्तार

शिवसेना के 40 विधायकों के बाद अब पार्टी के 12 सांसद मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे गुट में शामिल होने की तैयारी में हैं। शिंदे गुट के विधायक और पूर्व मंत्री गुलाबराव पाटिल ने यह दावा किया। एक दिन पहले दक्षिण मध्य मुंबई से शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान के लिए उद्धव ठाकरे को पत्र लिखा है। जबकि शिवसेना पहले से ही विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के समर्थन में हैं।



शिवसेना में जहां उद्धव ठाकरे का आदेश ही सर्वोपरि माना जाता है, वहां राहुल शेवाले ने उन्हें पत्र लिखकर अपना रुख जाहिर कर दिया है। इससे भी शिवसेना सांसदों के शिंदे गुट में शामिल होने की चर्चा को बल मिला है। गुलाब राव पाटिल ने दावा किया, फिलहाल 55 में से 40 विधायकों के अलावा 22 पूर्व विधायक भी हमारे साथ हैं। पाटिल ने कहा कि शिंदे गुट ही असली शिवसेना है और शिंदे गुट शिवसेना के सम्मान को फिर से बहाल करेगा। 


किसके साथ हैं कितने सांसद
शिंदे गुट में आने वाले शिवसेना सांसदों में सबसे पहला नाम उनके पुत्र कल्याण से सांसद श्रीकांत शिंदे का है। इसके अलावा रामटेक से सांसद रामकृपाल तुमाने, हिंगोली से हेमंत पाटिल, शिर्डी से सदाशिव लोखंडे, यवतमाल से भावना गवली, दक्षिण-मध्य मुंबई से राहुल शेवाले, बुलढाणा से प्रतापराव जाधव, पालघर से राजेंद्र गावित, नासिक से हेमंत गोडसे, मावल से श्रीरंग बारणे और ठाणे से राजन विचारे के नाम की चर्चा है।

वहीं, उद्धव ठाकरे खेमे में 7 सांसद हैं, जिनमें दक्षिण मुंबई से अरविंद सावंत, उत्तर-पश्चिम मुंबई से गजानन कीर्तिकर, उस्मानाबाद से ओमराजे निंबालकर, हातकलंगणे से धैर्यशील माने, परभणी से संजय बंडू जाधव, कोल्हापुर से संजय मंडलिक और दादरा नगर हवेली से कलाबेन डेलकर हैं।

शिवसेना की याचिका से लटका मंत्रिमंडल का विस्तार
महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की सरकार में नए मंत्रिमंडल का विस्तार उद्धव ठाकरे गुट की याचिका की वजह से अधर में लटक गया है। उद्धव गुट ने सुप्रीम कोर्ट में शिंदे गुट के 16 विधायकों को अयोग्य ठहराने वाली याचिका दायर की है, जिस पर सुनवाई के बाद ही मंत्रिमंडल के विस्तार की संभावना है।

  • शिवसेना उद्धव ठाकरे गुट की तरफ से पार्टी सचेतक को मान्यता न देने के विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को चुनौती दी गई है। सुप्रीम कोर्ट 11 जुलाई को सभी याचिकाओं पर सुनवाई करेगा। इसके बाद राज्य में मंत्रिमंडल का विस्तार होगा।
  • शिवसेना के 55 में से 40 विधायकों की टूट के बाद राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी ने तब के सीएम उद्धव ठाकरे को शक्ति परीक्षण का आदेश दिया था। लेकिन फ्लोर टेस्ट का सामना करने से एक दिन पहले ही उद्धव ठाकरे ने इस्तीफा दे दिया था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00