महाराष्ट्र : उद्धव होंगे सीएम, कल लेंगे शपथ, सुप्रीम फैसले के बाद अजित, फडणवीस ने छोड़ा मैदान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई Published by: Sneha Baluni Updated Wed, 27 Nov 2019 06:22 AM IST
Maharashtra live updates congress, shiv sena, ncp want floor test, fadnavis ajit try to save govt
विज्ञापन
ख़बर सुनें
विज्ञापन

महाराष्ट्र में महीने भर से चल रहा सियासी ड्रामा मंगलवार को रोमांचक मोड़ पर पहुंच गया। सुप्रीम कोर्ट के बुधवार को बहुमत साबित करने के आदेश के मात्र पांच घंटे बाद ही सीएम देवेंद्र फडणवीस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को इस्तीफा सौंप दिया।

इससे पहले 23 नवंबर को रातों-रात भाजपा को समर्थन देने वाले एनसीपी नेता अजित पवार ने निजी कारणों से इस्तीफा देकर भाजपा को झटका दे दिया। इसके बाद बाद फडणवीस ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा, अब हमारे पास बहुमत नहीं रह गया।



हम विधायकों की तोड़फोड़ नहीं करेंगे और मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाएंगे। इसके साथ ही फडणवीस की 78 घंटे पुरानी सरकार गिर गई। इस्तीफे के तत्काल बाद शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस का गठबंधन महाविकास अघाड़ी सरकार बनाने के लिए सक्रिय हो गया।

देर शाम बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को गठबंधन का नेता चुना गया। देर शाम बैठक में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को गठबंधन का नेता चुना गया। तीनों दलों के नेताओं राजभवन में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया।

बैठक में तय हुआ कि ठाकरे 28 नवंबर को शाम 6.40 बजे शिवाजी पार्क में शपथ लेंगे। राज्यपाल ने इस पर सहमति देते हुए ठाकरे को बहुमत साबित करने के लिए तीन दिसंबर तक का समय दिया।

इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने बहुमत परीक्षण में देरी होने पर विधायकों की खरीद-फरोख्त की आशंका देखते हुए बुधवार शाम पांच बजे तक फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया। आदेश आते ही दिल्ली से मुंबई तक हलचल तेज हो गई। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पीएम नरेंद्र मोदी को महाराष्ट्र की स्थिति की जानकारी दी। वहीं, मुंबई में एनसीपी, कांग्रेस-शिवसेना ने बैठक कर रणनीति बनाई। बैठक के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, उद्धव ठाकरे पांच साल तक महाराष्ट्र के सीएम होंगे।

मेरा हिंदुत्व झूठा नहीं : उद्धव

कभी सोचा नहीं था सीएम बनूंगा। संघर्ष के समय बाला साहब की बहुत याद आती है। आप लोगों ने मुझे नेता चुना। हम परिवार की तरह काम करेंगे। आम आदमी को लगना चाहिए, उनकी सरकार है। फडणवीस की प्रेस कांफ्रेंस के बाद लगा कि अब रिश्ता नहीं रहना चाहिए। सरकार बनने के बाद बड़े भाई (पीएम मोदी) से मिलने दिल्ली जाऊंगा। शिवसेना ने हिंदुत्व की विचारधारा से समझौता नहीं किया। मेरे हिंदुत्व में झूठापन नहीं है। कुछ लोग कह रहे हैं कि हमने शिवसेना के आदर्शों का उल्लंघन किया, लेकिन मैं बताना चाहता हूं कि उनको पालकी में बिठाने के लिए शिवसेना की स्थापना नहीं हुई थी।
- उद्धव ठाकरे, शिवसेना प्रमुख, गठबंधन का नेता बनने के बाद

 

ज्यादा दिन नहीं चलेगी तीन पहिये की सरकार : फडणवीस

फडणवीस ने कहा, एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना की तीन पहियों की सरकार ज्यादा दिन नहीं टिकेगी, क्योंकि इनकी दिशा और विचारधारा अलग- अलग हैं। शिवसेना सत्ता के लिए लाचार हो गई है। इसलिए कल (सोमवार को) सोनिया गांधी के नाम की शपथ ली। जो लोग मातोश्री से बाहर नहीं निकलते थे, वे दूसरों की सीढ़ियां चढ़ने लगे हैं। जनता ने भाजपा-शिवसेना को जनादेश दिया था। भाजपा को सबसे ज्यादा 105 सीटें मिलीं। नतीजों के बाद शिवसेना ने मोलभाव किया, ढाई साल सीएम की बात नहीं हुई थी। हम शिवसेना का इंतजार किया, लेकिन उसने एनसीपी-कांग्रेस से चर्चा की।

अनिश्चितता खत्म करने को फ्लोर टेस्ट जरूरी : कोर्ट 

जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की पीठ ने फ्लोर टेस्ट का आदेश देते हुए कहा, विधानसभा चुनाव के नतीजे आए एक महीना बीत गया, लेकिन अनिश्चितता बनी है। स्थिर सरकार सुनिश्चित करने के लिए लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करना जरूरी है। सदन में तत्काल बहुमत परीक्षण ही सबसे प्रभावशाली तरीका है। कोर्ट ने राज्यपाल को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त कर विधायकों को शपथ दिलाने और शाम पांच बजे तक बहुमत परीक्षण कराने का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि बहुमत परीक्षण गुप्त मतदान से नहीं होगा और सदन की कार्यवाही का सीधा प्रसारण होगा।

भाजपा कालिदास बने प्रोटेम स्पीकर

भाजपा विधायक कालीदास कोलंबकर को महाराष्ट्र विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर बनाया गया है। मंगलवार शाम कोलंबकर ने राजभवन जाकर पद और गोपनीयता की शपथ ली। उन्होंने कहा, 27 नवंबर को विधानसभा का सत्र बुलाया गया है। उसी दिन विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी।

माफी मांगे फडणवीस : कांग्रेस 

झूठ और दलबदल पर आधारित सरकार ताश के पत्तों की तरह गिर गई। पीएम मोदी और गृहमंत्री बताएं कि राज्यपाल को कठपुतली की तरह क्यों इस्तेमाल किया? अल्पमत सरकार बनाकर इतने दिन बहुमत का ड्रामा क्यों किया और भ्रष्टाचार के मुकदमे क्यों वापस लिए गए?
 - रणदीप सुरजेवाला, प्रवक्ता, कांग्रेस

यह जनता की जीत: एनसीपी 

यह जनता की जीत है। महाराष्ट्र के लोगों ने भाजपा नेताओं के अहंकार को खारिज कर दिया है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार स्पष्ट कर चुके हैं कि उद्धव ठाकरे अगले मुख्यमंत्री होंगे। हमारे गठबंधन की सरकार पांच साल ही नहीं, बल्कि अगले 20 से 25 साल चलेगी। - नवाब मलिक, प्रवक्ता, एनसीपी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00