विज्ञापन
विज्ञापन

कानों देखी: निर्मला के बजट में जेटली की छाप, ठन ठनाठन लालू परिवार

शशिधर पाठक, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sun, 07 Jul 2019 08:17 PM IST
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण - फोटो : पीटीआई
ख़बर सुनें
केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में लाल कपड़े में ब्रिटिश शाही को धता बताकर अंग्रेजी में बजट पेश कर दिया है, लेकिन आईआरएस कॉडर के अधिकारियों को इसमें पूर्व केन्द्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की छाप दिखाई पड़ रही है। अफसरशाही का मानना है कि निर्मला के इस बजट पर जेटली का आशीर्वाद साफ दिखाई दे रहा है। जेटली ने भी अपने बजट में अमीरों पर कर बढ़ाया था। निर्मला ने और बढ़ा दिया। जेटली ने अपने बजट में वित्तीष घाटे को नियंत्रण में रखा तो निर्मला ने भी 3.3 प्रतिशत ही रखा। जेटली ने कच्चे तेल के गिरते दामों के बीच हाई दाम पर पेट्रोल डीजल बेचा। निर्मला ने सीधे दो-दो रुपये सेस लगा दिया। 
विज्ञापन
इतना ही नहीं वित्त मंत्री बनते ही निर्मला पहले 2, कृष्णमेनन मेनन मार्ग पर जेटली का आशीर्वाद लेने गई थी। बजट पेश करने से पहले कैलाश कालोनी के मकान में शिफ्ट हुए जेटली का आशीर्वाद भी लेने फिर गई। जाएं भी तो क्यों न। जेटली के कुर्सी खाली करने पर वित्तमंत्री पीयुष गोयल को बनना था। साफ संकेत मिल गए थे और जब प्रधानमंत्री जेटली से मिलने गए तो पिटारे से नाम निर्मला का निकला। निर्मला सीतारमण भी यह कैसे भूल जाएं कि वित्त मंत्री से पहले रक्षा मंत्री और रक्षा मंत्री से पहले वाणिज्य एवं उद्योग में भी जेटली ने ही उनके कौशल को पहचाना था। ब्रिगेड जेटली भी मानती है कि निर्मला सीतारमण जितनी तेजतर्रार हैं, उतनी ही वफादार भी। इगो तो बिल्कुल भी नहीं है।

अमित शाह ने मंत्री बनने के बाद डाल दी है जान


केंद्रीय गृहमंत्री बनने के बाद से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने संसद के दोनों सदनों में पार्टी में जान डाल दी है। सबको पता है कि शाह प्रधानमंत्री मोदी के बाद सबसे प्रभावी हैं। वह पार्टी के अध्यक्ष भी हैं। संगठन पर मजबूत पकड़ रखने वाले शाह अनुशासन, बेलाग चर्चा में यकीन रखते हैं। जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन की अवधि बढ़ाने संबंधी प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान अमित शाह ने पार्टी लाइन पर बेबाक वक्तव्य देकर जम्मू-कश्मीर से कन्या कुमारी तक भाजपा को पॉवर बूस्टर दे दिया है। इतनी ही नहीं वह दक्षिण में कमल खिलाने की योजना पर काम कर रहे हैं। उनके निशाने पर केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना है। तमिलनाडु को लेकर भी दिमाग में प्लान तैयार हो रहा है। 

शाह भाजपा के पहले नेता है, जिनके पास गृहमंत्रालय होने के साथ-साथ भाजपा अध्यक्ष का अभी जिम्मा है, क्योंकि भाजपा के संविधान में जेपी नड्डा को मिला कार्यवाहक अध्यक्ष का कोई स्थान नहीं है। सनद रहे कि यह पॉवर न तो रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पा सके और न हीं कभी लालकृष्ण आडवाणी के ही पास आ सका। इतना ही नहीं शाह के गृहमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराधिकारी बनने का सपना पालने वाले नेताओं और कुछ राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी अपना भविष्य पढ़ लिया है। वह अब सावधान होकर खुद को सुरक्षित करने में लग गए हैं। 

रुद्रावतार में तेज प्रताप...ठन ठनाठन लालू परिवार


लालू यादव बिहार के कभी कद्दावर नेता थे। अब रांची में कस्टडी में रहकर स्वास्थ्यलाभ ले रहे हैं। पुत्र तेज प्रताप खुली धमकी दे रहे हैं कि जो उनके और तेजस्वी के बीच में आएगा, सुदर्शन चक्र......। तेज प्रताप निराले हैं। बीबी से पटी नहीं। मथुरा वृंदावन से लेकर पटना तक रुद्रावतार बने हैं। जटाधारी, त्रिशूलधारी, शिव अवतार में नजर आते हैं। मूड में आया तो ध्वंस विध्वंस की धमकी देने में देर नहीं लगाते। तेज प्रताप के इस रुख से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का खेमा खुश रहता है। 
मीसा भारती की टीम भी उम्मीद लगाए रहती है। अभी हाल में पार्टी स्थापना दिवस मना रही थी। लालू यादव को जमानत नहीं मिल पाई तो रघुवंश प्रसाद समेत अन्य के साथ राबड़ी को नेता की औपचारिकता पूरी करनी पड़ी। स्थापना दिवस का कार्यक्रम चल ही रहा था कि अचानक तेज प्रताप त्रिशूल लेकर प्रकट हो गए। प्रकट ही नहीं हुए बल्कि लालू प्रसाद के उत्तराधिकार बनकर जम गए। वहीं तेजस्वी हैं कि सामने खड़ी चुनौतियां देखकर उनका सिर चकरा रहा है। तेजस्वी एक नहीं कई मोर्चे पर लड़ रहे हैं। विधानसभा चुनाव आने वाला है, लोकसभा चुनाव में अरमानों पर पानी फिर गया। डगमगाती नाव में मीसा भारती एक तरफ तो तेज प्रताप एक तरफ अवतार में हैं।  अविवाहित तेजस्वी का अपना भी मिजाज है और इसमें कई राजद के बड़े नेताओं चाल तिरछी हुई जा रही है। 

 

विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

India News

महाराष्ट्रः बिखरी और लडखड़ाती कांग्रेस क्या पहले ही हथियार डाल चुकी है?

महाराष्ट्र विधानसभा में तीन दर्जन विधायक भेजने वाली मुंबई में अगर एक कोने से दूसरे कोने तक घूम आइए तो एसा लगेगा कि शायद यहां सिर्फ भाजपा शिवसेना गठबंधन अकेला चुनाव लड़ रहा है।

16 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय और हेमा मालिनी पर दिया बेतुका बयान

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने सड़कों के बहाने कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा सांसद हेमा मालिनी को लेकर बेतुका बयान दिया है।

15 अक्टूबर 2019

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree