लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Gujarat Election top five poorest candidates someone does not have even a single rupee to spend

Gujarat Election: किसी के पास खर्च के लिए पैसे तक नहीं तो कोई ‘बेघर’, ये हैं पहले चरण के सबसे गरीब प्रत्याशी

इलेक्शन डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: हिमांशु मिश्रा Updated Thu, 01 Dec 2022 06:42 PM IST
सार

पहले चरण में चुनाव लड़ रहे 788 प्रत्याशियों में 21 प्रतिशत यानी 167 पर आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं। इनमें भी आम आदमी पार्टी के सर्वाधिक 36 प्रतिशत दागी प्रत्याशी हैं। 211 प्रत्याशी ऐसे हैं, जो करोड़पति हैं। करोड़पति प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 2.88 करोड़ रुपये है। 

गुजरात विधानसभा चुनाव 2022
गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 - फोटो : अमर उजाला

विस्तार

गुजरात में आज पहले चरण की वोटिंग हुई। 19 जिलों की 89 सीटों पर शाम पांच बजे तक 59 फीसदी से ज्यादा लोगों ने वोट डाला। कुल 788 प्रत्याशी मैदान में रहे। इनमें भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी भी शामिल हैं।

 
पहले चरण में चुनाव लड़ने वाले 788 प्रत्याशियों में 21 प्रतिशत यानी 167 पर आपराधिक मुकदमे चल रहे हैं। इनमें भी आम आदमी पार्टी के सर्वाधिक 36 प्रतिशत दागी प्रत्याशी हैं। 211 प्रत्याशी ऐसे हैं, जो करोड़पति हैं। करोड़पति प्रत्याशियों की औसत संपत्ति 2.88 करोड़ रुपये है। 

 
वहीं, कुछ प्रत्याशी ऐसे भी हैं, जो बेहद गरीब हैं। जिनके पास रहने के लिए खुद का घर तक नहीं है। एक प्रत्याशी ने तो शून्य एसेट दर्ज कराया है। आइए ऐसे प्रत्याशियों के बारे में जानते हैं...
 

ये हैं सबसे गरीब प्रत्याशी
राजकोट पश्चिम से निर्दलीय उम्मीदवार भूपेंद्र भावनभाई पटोलिया पहले चरण के सबसे गरीब प्रत्याशी हैं। इन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में शून्य संपत्ति दिखाई है। भूपेंद्र के पास न तो चल संपत्ति है और न ही अचल। मतलब न तो इनके पास रहने का खुद का कोई घर है और न ही चुनाव में खर्च करने के लिए थोड़े से भी पैसे। यहां तक की पम्पलेट और पोस्टर छपवाने के लिए भी भूपेंद्र के पास रकम नहीं है। 
 

गरीब प्रत्याशियों में ये तीन भी शामिल

1. राकेश भाई सुरेश भाई गामित: बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर तापी के व्यारा सीट से चुनाव लड़ रहे राकेश भाई सुरेश भाई गामित भी काफी गरीब हैं। राकेश ने अपने पास कुल एक हजार रुपये की संपत्ति दिखाई है। राकेश के पास न तो खुद का कोई घर है और न ही चलने के लिए गाड़ी या साइकिल। 
 

2. जयाबेन मेहुलभाई बोरिचा: भावनगर पश्चिम से निर्दलीय चुनाव लड़ रहीं जयाबेन के पास महज तीन हजार रुपये की संपत्ति है। ये रकम भी चल संपत्ति में शामिल है। मतलब इनके पास भी रहने के लिए खुद का कोई घर नहीं है। इसके अलावा चुनाव प्रसार के लिए पैसे तक नहीं था। 
 

3. समीर फकरुद्दीन शेख: सूरत पूर्व विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे समीर फकरुद्दीन के पास भी कोई दौलत नहीं है। फकरुद्दीन ने अपने चुनावी हलफनामे में बताया है कि उनके पास कुल छह हजार 500 रुपये की चल संपत्ति है। अचल संपत्ति यानी घर, मकान, प्लॉट, खेत व अन्य के नाम पर कुछ भी नहीं है। 
 

पहले चरण में कितने प्रत्याशी कितने अमीर? 
संपत्ति प्रत्याशी 
पांच करोड़ से अधिक 73
दो से पांच करोड़   77
50 लाख से दो करोड़ 125
10 लाख से 50 लाख   170
दस लाख से कम   343

भाजपा के सबसे ज्यादा करोड़पति प्रत्याशी
गुजरात चुनाव में पहले चरण के प्रत्याशियों में सबसे ज्यादा भारतीय जनता पार्टी ने करोड़पतियों को टिकट दिया है। आंकड़ों के अनुसार, भाजपा के 89 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं। दूसरे नंबर पर कांग्रेस के 75 प्रतिशत और आप के 38 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पतियों की सूची में आते हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00