लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Mumbai Building Collapse 8 Rescued 28 Feared Trapped Under Debris In Kurla News In Hindi

Mumbai Building Collapse: मुंबई में गिरी चार मंजिला इमारत, अब तक 19 की मौत, पीएम-सीएम ने किया मुआवजे का एलान

एएनआई, मुंबई Published by: Jeet Kumar Updated Tue, 28 Jun 2022 09:46 PM IST
सार

रेस्क्यू ऑपरेशन चालू है। एनडीआरएफ के उप कमांडेंट आशीष कुमार का कहना है कि अभी भी कितने लोग फंसे हुए हैं, इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है।

मुंबई में गिरी इमारत
मुंबई में गिरी इमारत - फोटो : ANI

विस्तार

मुंबई। मुंबई में सोमवार देर रात चार मंजिला आवासीय इमारत ढहने से 19 लोगों की मौत हो गई और 14 घायल हो गए। घायलों को घाटकोपर व सायन के सरकारी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। मरने वालों में ज्यादातर यूपी और बिहार के मजदूर हैं। राज्य सरकार ने मृतकों के परिवारों को पांच-पांच लाख और घायलों को मुफ्त इलाज की घोषणा की है।



बृहन्मुंबई महानगर निगम (बीएमसी) के अधिकारियों के मुताबिक कुर्ला की नाइक नगर सोसाइटी में यह हादसा सोमवार देर रात हुआ। मलबे से 33 लोगों को निकाला गया है। जिनमें चार की अस्पताल ले जाने से पहले ही मौत हो चुकी थी।


मंगलवार को अस्पतालों में भर्ती 15 और लोगों की जान चली गई। अतिरिक्त नगर आयुक्त अश्विनी ने कहा, नोटिस दिया गया था, जिसपर इमारत में रहने वालों ने एक हलफनामा दिया था कि वे अपने जोखिम पर रहेंगे।

मलबे में दबी महिला को जीवित निकाला  
एनडीआरएफ के एक दल ने मलबे में फंसी एक महिला को जीवित बाहर निकाला है। चहल ने कहा कि दमकल और एनडीआरएफ की टीम को सावधानी के साथ राहत और बचाव कार्य करने को कहा गया है, क्योंकि और जीवित लोग मलबे में दबे हो सकते हैं।

मरने वालों में बिहार के 3 मजदूर
मुंबई बिल्डिंग हादसे में मरने वालों में छपरा के भी 3 मजदूर शामिल हैं। बताया जाता है कि 2 घायल मजदूरों का इलाज चल रहा है, जबकि 5 अभी भी लापता हैं।

मौके पर पहुंचे आदित्य ठाकरे
महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे ने कुर्ला भवन ढहने की साइट का दौरा किया। उन्होंने कहा, "मैं यहां कल रात भी आया था और बचाव अभियान जारी है। 2-3 लोग यहां से जिंदा निकले हैं, शायद और भी लोग निकल सकते हैं और हम उम्मीद करते हैं कि मलबे से सभी सुरक्षित निकले।" इससे पहले आदित्यन ने बताया था कि सभी 4 इमारतों को नोटिस जारी किया गया था, लेकिन लोग वहां रहते हैं। सभी को बचाना हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि जब भी बीएमसी नोटिस जारी करे, इमारतें खुद खाली कर दी जानी चाहिए। अन्यथा, ऐसी घटनाएं होती हैं, जो दुर्भाग्यपूर्ण है,अब इस पर कार्रवाई करना महत्वपूर्ण है।


विज्ञापन

इस दुर्घटना पर शिवसेना के बागी विधायक मंगेश कुदलकर ने ट्वीट कर शोक जताया। उन्होंने हादसे में जान गंवाने वाले प्रत्यके व्यक्ति के परिजनों को 5 लाख रुपये का मुआवजा देने की बात कही। साथ ही घायलों को भी एक लाख रुपये की मदद का वादा किया।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00