लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Bay of Bengal Accident 18 fishermen missing Coast Guard and local administration engaged in relief work

बंगाल की खाड़ी में हादसा: 18 मछवारे लापता, कोस्ट गार्ड और स्थानीय प्रशासन राहत कार्य में जुटा

डिजिटल ब्यूरो, अमर उजाला, कोलकाता Published by: अभिषेक दीक्षित Updated Fri, 19 Aug 2022 07:39 PM IST
सार

बताया जा रहा है कि सुंदरवन इलाके के रहने वाले ये सभी मछुआरे मछली पकड़ने के लिए एम वी सत्यनारायण नाम के फिशिंग ट्रॉलर से बंगाल की खाड़ी में गए थे। मौसम खराबी की जानकारी मिलने के बाद वे लौट रहे थे तभी खाड़ी में काकद्वीप के पास फिशिंग ट्रॉलर किसी चीज से टकराकर डूब गई और डूब गई। 

सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर। - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

विस्तार

बंगाल की खाड़ी में शुक्रवार को एक फिशिंग ट्रॉलर (मछली पकड़ने की नाव) डूबने से 18 मछुआरे लापता हो गए। घटना शुक्रवार को दक्षिण 24 परगना के काकद्वीप इलाके में हुई है। सूचना मिलने के बाद मछुआरों की तलाश शुरू कर दी गई है। इसके लिए प्रशासन की टीमें और तटरक्षक बल को लगाया गया है। 



बताया जा रहा है कि सुंदरवन इलाके के रहने वाले ये सभी मछुआरे मछली पकड़ने के लिए एम वी सत्यनारायण नाम के फिशिंग ट्रॉलर से बंगाल की खाड़ी में गए थे। मौसम खराबी की जानकारी मिलने के बाद वे लौट रहे थे तभी खाड़ी में काकद्वीप के पास फिशिंग ट्रॉलर किसी चीज से टकराकर डूब गई और डूब गई। 


बताया जा रहा है कि इसमें 18 मछुआरे सवार थे, जो अभी तक लापता बताए जा रहे हैं। मछुआरों की तलाश के लिए कोस्ट गार्ड और स्थानीय प्रशासन राहत कार्य में जुटा हुआ है। इसके अलावा, स्थानीय मछुआरों से भी लापता लोगों की तलाश के लिए मदद मांगी गई है। हालांकि, अभी तक किसी भी मछुआरे का सुराग नहीं लग सका है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00